मुश्किल में आंगनबाड़ी केंद्र, सरकार ने 1 साल से नहीं दिया किराया

Saturday, January 13, 2018 11:59 AM
मुश्किल में आंगनबाड़ी केंद्र, सरकार ने 1 साल से नहीं दिया किराया

तलवंडी साबो(मुनीश): डेरा-सिख विवाद दौरान डेरा सिरसा विरोधी संघर्ष के हैडक्वार्टर के तौर पर जाने जाते तख्त श्री दमदमा साहिब के नगर तलवंडी साबो में आज सुबह माहौल उस समय तनावपूर्ण बन गया जब नत्त रोड पर एक डेरा प्रेमी के घर नाम चर्चा किए जाने की सूचना मिलते ही सिख संगठनों के सदस्य वहां पहुंच गए और उन्होंने नाम चर्चा का विरोध करना शुरू कर दिया। मामले की गंभीरता को देखते पुलिस ने नाम चर्चा रुकवाकर डेरा प्रेमियों को थाने भेज दिया। उधर, तलवंडी साबो पुलिस द्वारा 2 दर्जन डेरा प्रेमियों खिलाफ मामला दर्ज कर करने की सूचना मिली है। 
 
जानकारी अनुसार आज सुबह करीब 6 बजे नत्त रोड पर मेजर सिंह डेरा प्रेमी के घर बच्चे के जन्मदिन की खुशी के तौर पर डेरा सिरसा प्रेमियों द्वारा नाम चर्चा की गई। उक्त नाम चर्चा की जानकारी जैसे ही पुलिस को मिली तो पुलिस पार्टी थाना मुखी मङ्क्षहद्रजीत सिंह के नेतृत्व में उक्त नाम चर्चा वाले घर के बाहर तैनात कर दी गई। नाम चर्चा की सूचना सिख संगतों के पास भी पहुंच गई और करीब 6:30 बजे कुछ सिख नौजवान उक्त जगह पर पहुंच गए और उन्होंने तुरंत पुलिस अधिकारियों को नाम चर्चा बंद करने की अपील की। सिख नौजवानों की बढ़ती संख्या को देखते पुलिस ने करीब 8 बजे नाम चर्चा बंद करवाकर डेरा प्रेमियों को सुरक्षित गाडिय़ों में बिठाकर थाने पहुंचा दिया। 

सिख नौजवान, जिनमें सोनी जस्सल, बाबा जस्सा सिंह, भाना चहल और गतका एकैडमी की टीम भी शामिल थी, थाने पहुंच गए और उन्होंने थाने में डेरा प्रेमियों पर सिख भावनाओं को ठेस पहुंचाने का मामला दर्ज करने की मांग की। बाद में शिरोमणि अकाली दल के जिला अध्यक्ष परमिंद्र सिंह बालियांवाली भी थाने पहुंच गए। पता चला है कि पुलिस अधिकारी सारा दिन डेरा प्रेमियों से माफी मंगवाकर उनको छोडऩे की सिख नौजवानों के पास अपील करते रहे लेकिन सिख नौजवानों के अड़ जाने कारण आखिरकार सायं करीब 22 डेरा प्रेमियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया।



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन