ग्रामीण क्षेत्रों में डुप्लीकेट घरेलू गैस सिलैंडरों की बिक्री का धंधा जोरों पर

Sunday, January 14, 2018 12:10 PM
ग्रामीण क्षेत्रों में डुप्लीकेट घरेलू गैस सिलैंडरों की बिक्री का धंधा जोरों पर

गुरदासपुर (विनोद): सर्दी का मौसम होने के बावजूद इस समय पूरे देश में घरेलू गैस की कहीं पर भी तंगी नहीं है परंतु उसके बावजूद ग्रामीण क्षेत्रों में घरेलू गैस कुछ लोगों द्वारा डुप्लीकेट गैस सिलैंडर तथा बहुत ही घटिया क्वालिटी के गैस सिलैंडर लोगों को बेचने का धंधा भी जोरों से शुरू किया जा रहा है जो जनता के लिए एक गम्भीर खतरा बना हुआ है। यदि इन डुप्लीकेट गैस सिलैंडरों के कारण कोई घटना हो जाती है तो जान-माल का नुक्सान हो सकता है परंतु कोई भी विभाग व एजैंसी इन डुप्लीकेट घरेलू गैस सिलैंडरों के मार्कीट में प्रचलन को बंद करवाने के लिए गम्भीर दिखाई नहीं देती। 

गैस सिलैंडर से गैस निकाल कर छोटे गैस सिलैंडरों में भर कर बेचने का धंधा जोरों पर 
डुप्लीकेट घरेलू व अन्य गैस सिलैंडरों संबंधी अधिकतर समस्या शहरों की बजाय ग्रामीण क्षेत्रों में पाई जाती है। ग्रामीण क्षेत्रों में जो हीटर, बिजली का समान आदि बेचते हैं वे ये डुप्लीकेट गैस सिलैंडर भी बेचते हैं। इन दुकानों पर गैस सिलैंडर पड़े आम देखे जाते हैं। ये गैस सिलैंडर से गैस निकाल कर छोटे गैस सिलैंडरों में भर कर बेचने का धंधा करते हैं, जबकि ये गैस सिलैंडर बेचने के लिए विस्फोटक लाइसैंस लेना जरूरी है। इन दुकानों से 1 किलोग्राम से लेकर 8 किलोग्राम तक के सिलैंडर आम मिल जाते हैं। 

वैसे तो एक गैस से भरे घरेलू गैस सिलैंडर को बहुत ही सतर्कता से प्रयोग किया जाता है परंतु ग्रामीण क्षेत्रों में गैस सिलैंडर से गैस सही ढंग से न निकलने पर यह साधारण दुकानदार भी इसे तुरंत ठीक कर देते हैं। सिलैंडर में लगी पिन व रैगुलेटर की मुरम्मत भी बिना किसी भय के कर दी जाती है। 

क्या कहते हैं विभाग के अधिकारी
दूसरी और देश भर में घरेलू गैस सिलैंडर फटने की घटनाएं आम सुनने में आती रहती हैं तथा गैस सिलैंडर के फटने से भारी जान-माल का नुक्सान भी होता है परंतु इस डुप्लीकेट गैस सिलैंडरों संबंधी कोई भी विभाग अपनी जिम्मेदारी निभाने के लिए तैयार नहीं है। इस संबंधी यदि खाद्य व सप्लाई विभाग के अधिकारियों से बात की जाए तो उनका कहना है कि हमारी ड्यूटी घरेलू गैस की ब्लैक को रोकना तथा कमर्शियल स्थानों पर घरेलू गैस सिलैंडरों के प्रयोग को रोकने की है। डुप्लीकेट गैस सिलैंडरों की बिक्री या गैस सिलैंडरों से गैस निकाल कर छोटे गैस सिलैंडरों में भरने का अवैध धंधा रोकना हमारे अधिकार में नहीं है।

क्या कहते हैं पुलिस अधिकारी
यदि इस संबंधी पुलिस अधिकारियों का कहना है कि हमारे पास यदि इस संबंधी कोई शिकायत करेगा तो हम तभी कार्रवाई कर सकते हैं। विस्फोटिक विभाग इस संबंधी अपने स्तर पर कार्रवाई कर सकता है परंतु वह भी ग्रामीण क्षेत्रों में नहीं जाता।

क्या कहते हैं घरेलू गैस एजैंसी मालिक 
इस संबंधी एक घरेलू गैस एजैंसी मालिक ने अपना नाम गुप्त रखने के आश्वासन पर बताया कि बेशक डुप्लीकेट गैस सिलैंडरों के बिकने का क्रम चल रहा है परंतु उन्हें गैस तो हमारे डीलर ही सप्लाई करते हैं। इन गैस सिलैंडरों से आगे अपने स्तर पर ग्रामीण क्षेत्रों में दुकानदार डुप्लीकेट सिलैंडरों में गैस को रिफिल करने का अवैध धंधा करते हैं। डुप्लीकेट सिलैंडरों में मात्र 10 किलोग्राम ही गैस होती है और रेट दोगुना वसूल किया जाता है।



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!