पी.ओ. स्टाफ ने 3 भगौड़ों को किया गिरफ्तार

Thursday, December 7, 2017 12:07 PM
पी.ओ. स्टाफ ने 3 भगौड़ों को किया गिरफ्तार

पटियाला(बलजिन्द्र): पी.ओ. स्टाफ की पुलिस ने इंचार्ज पी.ओ. स्टाफ के ए.एस.आई. कर्मचंद की अगुवाई में 3 भगौड़ों को गिरफ्तार कर चार को ट्रेस कर लिया है।  पहले केस में गुरप्रीत सिंह निवासी गांव सील को गिरफ्तार किया गया, जिसके खिलाफ थाना सदर पटियाला में 138 एन.आई. एक्ट व 420 आई.पी.सी. के तहत शिकायत दर्ज है। इसमें माननीय अदालत ने गुरप्रीत सिंह को 12 जुलाई 2017 को पी.ओ. करार दिया था।

दूसरे केस में वरियाम सिंह निवासी बठोई खुर्द को गिरफ्तार किया गया है, जिसके खिलाफ थाना सिविल लाइन में 138 एन.आई. एक्ट के तहत शिकायत दर्ज है जिसको माननीय अदालत ने 1 अप्रैल 2017 को पी.ओ. करार दिया था। तीसरे केस में बलोगी निवासी अर्बन एस्टेट पटियाला को गिरफ्तार किया गया है। बलोगी को माननीय अदालत ने कानूनी प्रक्रिया के बाद 25 अक्तूबर 2016 को पी.ओ. करार दिया था।इसी तरह मुनीश कुमार निवासी चकला बाजार मिर्च मोहल्ला समाना को ट्रेस किया गया है। मौजूदा समय मुनीश एन.डी.पी.एस. एक्ट के तहत थाना कोतवाली में दर्ज केस में केंद्रीय जेल पटियाला में बंद है। 

वहीं राकेश कुमार निवासी गोबिंद नगर गांव हाल निवासी विकास एन्क्लेव नजदीक चर्च नवां गांव जिला मोहाली को माननीय अदालत ने थाना बख्शीवाला में 24 दिसम्बर 2015 को 224 आई.पी.सी. के तहत दर्ज केस में 7 अक्तूबर 2016 को पी.ओ. करार दिया था जोकि मौजूदा समय सैक्टर 36 चंडीगढ़ में 379, 411 आई.पी.सी. के तहत दर्ज केस में बुड़ैल जेल में बंद है। तीसरा भगौड़ा मनजीत सिंह माननीय अदालत ने थाना पातड़ां में दर्ज 384, 506, 148, 149 और एन.डी.पी.एस. एक्ट के तहत दर्ज केस में 23 मई 2017 को पी.ओ. करार दिया था को ट्रेस कर लिया गया है जोकि इस समय थाना पातड़ां में 307, 323, 324, 148, 149 आई.पी.सी. के तहत दर्ज केस में केंद्रीय जेल पटियाला में बंद है। 

  सुक्खा निवासी गांव तरखाणमाजरा है जोकि माननीय अदालत द्वारा थाना बनूड़ में दर्ज तिथि 11 जुलाई 2013 को 379, 411, 120 बी.आई.पी.सी. के तहत दर्ज केस में 21 अगस्त 2015 को और 15 जुलाई 2013 को 379, 411 आई.पी.सी. थाना बनूड़ में दर्ज केस में 17 दिसम्बर 2016 को माननीय अदालत ने पी.ओ. करार दिया था को ट्रेस कर लिया गया है जोकि इस समय जी.आर.पी. सरसा थाना में 1 मार्च 2016 को दर्ज 379 बी.आई.पी.सी. के तहत केस में संगरूर जेल में बंद है। उक्त पी.ओ. को गिरफ्तार करने और ट्रेस करने में हवलदार जसपाल सिंह, हवलदार दलजीत सिंह, हवलदार बलदेव सिंह, हवलदार बलविंद्र सिंह, हवलदार हरजिंद्र सिंह और हवलदार सुरजी सिंह ने भी अहम भूमिका निभाई।



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!