कैप्टन सरकार का बड़ा ऐलान, 5 एकड़ जमीन वाले किसानों का 2 लाख तक का कर्जा माफ

Monday, June 19, 2017 7:46 PM
कैप्टन सरकार का बड़ा ऐलान, 5 एकड़ जमीन वाले किसानों का 2 लाख तक का कर्जा माफ

चंडीगढ़(भुल्लर): पंजाब के मुख्यमंत्री कै. अमरेंद्र सिंह ने राज्य का बजट पेश होने से एक दिन पहले ही किसानों व अन्य श्रेणियों को राहत देने के लिए बड़ी घोषणाएं कर विपक्ष द्वारा की जा रही आलोचना को शांत करने का प्रयास किया है। 

 

आज रात राज्यपाल के अभिभाषण पर बहस के अंत में कै. अमरेंद्र ने 5 एकड़ तक वाले छोटे व मध्यम किसानों का 2 लाख तक का फसली कर्जा माफ करने की घोषणा की है। कैप्टन के इस कदम से प्रदेश के 10.25 लाख किसानों को लाभ होगा। उत्तर प्रदेश व महाराष्ट्र की सरकारों के मुकाबले यह दोगुनी राहत दी गई है। आत्महत्याएं करने वाले किसानों के परिवारों को भी बड़ी राहत देते हुए कैप्टन ने उनका पूरा कर्जा माफ करके इसकी भरपाई खुद करने की घोषणा की है। यह ऋण राहत सरकार द्वारा बनाई गई टी-हक कमेटी की सिफारिशों पर दी गई है। इसके अलावा उन्होंने राज्य में सभी ट्रक यूनियनों को खत्म कर दिया है। 


ट्रक यूनियनों के झगड़ों को लेकर व्यापारियों को बहुत परेशानी झेलनी पड़ती थी। उन्होंने कहा कि उद्योगों से किए गए चुनावी वायदे के तहत 5 रुपए प्रति यूनिट के हिसाब से बिजली देने का भी फैसला किया गया है। सरकार भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए वचनबद्ध है तथा नया लोकपाल स्थापित किया जाएगा जिसके घेरे में मुख्यमंत्री व मंत्री भी आएंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार घर-घर एक नौकरी देने के वायदे पर भी कायम है और इसे भी पड़ाववार पूरा किया जाएगा। युवाओं को स्मार्ट फोन देने का वायदा भी जल्द ही पूरा होगा।

 

दूसरों को देने के लिए एक बूंद भी पानी फालतू नहीं
कै. अमरेंद्र सिंह ने एस.वाई.एल. के मुद्दे पर कहा कि मामले में उनके पहले के स्टैंड में कोई तबदीली नहीं आई है। राज्य के पास किसी और को देने के लिए एक बूंद भी पानी फालतू नहीं है। श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटनाओं तथा बहबल कलां में हुए गोलीकांड के आरोपियों पर जांच कमीशन की रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई करने की भी उन्होंने बात कही। उन्होंने कहा कि नशों की तस्करी के मामलों में किसी तरह का समझौता नहीं होगा, बेशक कोई भी आरोपी हो, कार्रवाई की जाएगी। 

 

‘आप’ ने किया स्वागत, अकाली सदन से गैर-हाजिर
कै. अमरेंद्र द्वारा किसानों की गई ऋण माफी की घोषणाओं का ‘आप’ की ओर से कंवर संधू ने सदन में स्वागत करते हुए कहा कि इससे किसानों को बड़ी राहत मिलेगी। उन्होंने उम्मीद जताई कि बाकी वायदे भी सरकार पूरे करेगी। जब कै. अमरेंद्र ये घोषणाएं कर रहे थे तब अकाली दल उस समय सदन से नदारद था क्योंकि वह पहले ही वॉकआऊट कर सदन से चला गया था। कांग्रेस के सुख सरकारिया ने कै. अमरेंद्र सिंह का धन्यवाद करने के लिए प्रस्ताव पेश किया जिसका परमिंद्र पिंकी ने समर्थन करते हुए इसका अनुमोदन किया और इंद्रबीर बुलारिया तथा फतेहजंग बाजवा के समर्थन के बाद इस प्रस्ताव को पारित कर दिया गया। 

राजमार्गों पर होटलों में शराब परोसने का मार्ग प्रशस्त
पंजाब सरकार ने राज्य में राष्ट्रीय और राज्य राजमार्गों पर स्थित होटलों/रैस्तरां को शराब की पाबंदी से बाहर करने के लिए आबकारी कानून में संशोधन करने को सैद्धांतिक मंजूरी प्रदान कर दी है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह की अध्यक्षता में आज यहां हुई मंत्रिमंडल की बैठक में ये फैसला लिया गया। बैठक में शराब के ठेकों का राष्ट्रीय और राज्य राजमार्गों पर स्थान निर्धारित करने और इनके 500 मीटर के दायरे में शराब परोसने की पाबंदी से होटलों, रैस्तरां और क्लबों को बाहर करने के लिए पंजाब आबकारी अधिनियम-1914 में संशोधन करने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी गई जिसके साथ ही अब सभी होटलों, रैस्तरां और क्लबों आदि में शराब परोसने का मार्ग प्रशस्त हो गया है।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !