बैंक उपभोक्ता के खाते से 40 हजार गायब

Wednesday, February 14, 2018 11:49 AM

समालसर(स.ह.): गांव माड़ी मुस्तफा निवासी रंजीत सिंह ने केनरा बैंक ब्रांच माड़ी मुस्तफा के मैनेजर से शिकायत की कि मई से नवम्बर 2017 के बीच केनरा बैंक ब्रांच माड़ी मुस्तफा में उसके बचत बैंक खाते से 40 हजार रुपए गायब हो गए। उधर, बैंक की बाघापुराना शाखा के अनुसार रंजीत सिंह का खाता किसी अन्य के आधार कार्ड से लिंक होने के कारण पैसे निकाले गए। बैंक ने यह भी साफ कर दिया कि इसमें किसी बैंक कर्मचारी की गलती नहीं। ऐसे में बैंक ने रंजीत सिंह को पैसे वापस करवाने से साफ इंकार कर दिया है।

 

रंजीत सिंह ने बताया कि गत वर्ष अप्रैल के बाद जब वह नवम्बर में अपने खाते का बैलेंस पता करने गया तो खाते में सिर्फ बीमे की रकम जमा थी, जबकि उसने अप्रैल के बाद कोई लेन-देन नहीं किया। मैनेजर ने कम पैसे लेने का ऑफर दिया था: शिकायतकत्र्ता रंजीत सिंह ने बताया कि बैंक मैनेजर ने एक दिन पहले उसके बचत खाते से पैसे निकालने वाले दूसरे खाताधारक से कम पैसे लेने का ऑफर भी दिया था। अगर मैनेजर ने कोई गबन नहीं किया तो वह खाते से पैसे निकालने वाले को बचाने की कोशिश क्यों कर रहे हैं। 


रंजीत के खिलाफ करेंगे शिकायत : मैनेजर
बैंक मैनेजर अभिनव सूद ने फोन पर कहा कि वह रंजीत सिंह के खिलाफ पुलिस को शिकायत करेंगे क्योंकि उसने कुछ समय पहले अपने साथियों के साथ बैंक में आकर बिना इजाजत तस्वीरें खींचने का अपराध किया है। रंजीत सिंह के बचत खाते से पैसे निकालने के मामले में बैंक का कोई रोल नहीं।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !