आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई न होने से नाराज परिजनों ने दिया धरना

Tuesday, March 13, 2018 1:03 PM
आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई न होने से नाराज परिजनों ने दिया धरना

समाना (शशिपाल): झूठा मामला दर्ज कर पैसे ऐंठने के मामले में परिवार की जमानत रद्द हो जाने से परेशान रविवार को फंदा लगा कर आत्महत्या करने वाले रमेश कुमार पुत्र नंद लाल निवासी वड़ैचां पत्ती के मामले में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई न किए जाने से दुखी परिजनों ने रमेश कुमार का शव सोमवार को भी लेने से इन्कार कर दिया। 
 

रमेश कुमार की पत्नी सिंदर रानी समेत सैंकड़ों महिलाओं ने सिविल अस्पताल की इमरजैंसी समक्ष धरना लगाया। उन्होंने संस्कार हेतु शव प्राप्त करने से पहले मामले में दोषी पुलिस कर्मियों समेत कुछ अन्य लोगों पर कार्रवाई की भी मांग की। रमेश कुमार के परिजनों ने बताया कि उन्होंने कुछ मोबाइल नंबर व दोषी पुलिस अधिकारी का नाम भी सिटी पुलिस को दिया है, लेकिन पुलिस उक्त नंबर ट्रेस करने का बहाना बना कर मामले को टाल रही है। 

 

उन्होंने रमेश कुमार को टार्चर कर पैसे ऐंठने का भी आरोप लगाया। इस दौरान सिटी पुलिस द्वारा पोस्टमार्टम उपरांत बिना किसी के खिलाफ कार्रवाई के परिजनों पर मृतक का शव लेने का दबाव बनता जाना उपस्थित परिजनों व बस्ती निवासियों ने अकाली नेता पूर्व कैबिनेट मंत्री से सम्पर्क बनाकर उनसे सहायता की गुहार लगाई।

 

सुनवाई न होने पर पीड़ितों की मदद हेतु पहुंचे रखड़ा
सूचना दिए जाने पर पूर्व कैबिनेट मंत्री सुरजीत रखड़ा नगर कौंसिल प्रधान कपूर चंद बांसल, पार्षद सुदर्शन मित्तल, राणा सेखों व पूर्व चेयरमैन रणधीर सिंह रखड़ा समेत अकाली कार्यकत्र्ता सिविल अस्पताल में पहुंचे व धरना लगा कर बैठी मृतक की पत्नी व परिजनों से बातचीत की। इस दौरान फोन करने पर डी.एस.पी. से तसल्ली न होने पर उन्होंने पटियाला के एस.पी. (डी) से बात की व मामला भड़कने से पहले कार्रवाई करने की मांग की। इसके बाद सिटी पुलिस इंचार्ज तुरन्त अस्पताल प्रांगण में पहुंचे व रखड़ा समक्ष आरोपियों के विरुद्ध कार्रवाई करने का आश्वासन देकर धरना उठवाया व परिजनों को मृतक का शव प्राप्त कर संस्कार करने हेतु मनाया।



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!