पूर्व मंत्री सिकंदर सिंह मलूका ने सत्ता के नशे में सैंकड़ों झूठे मामले दर्ज करवाए: लक्खा सिधाना

Friday, May 19, 2017 12:06 PM
पूर्व मंत्री सिकंदर सिंह मलूका ने सत्ता के नशे में सैंकड़ों झूठे मामले दर्ज करवाए: लक्खा सिधाना

भटिंडा (विजय): पूर्व अकाली मंत्री सिकंदर सिंह मलूका द्वारा कांग्रेस सरकार में अकाली कार्यकत्र्ताओं पर झूठे मामले दर्ज करवाए जा रहे हैं, का जवाब देते हुए मालवा युवा फैडरेशन के नेता लक्खा सिधाना ने कहा कि मलूका ने सत्ता में रहते सैंकड़ों मामले दर्ज करवाए। 

प्रैस क्लब में पत्रकार सम्मेलन दौरान लक्खा सिधाना अकाली सरकार दौरान सताए कुछ लोगों को साथ लेकर आए, जो चलने-फिरने में भी असमर्थ हैं। मलूका की पोल खोलते हुए मनप्रीत सिंह बादल की पी.पी.पी. पार्टी से चुनाव लड़ चुके लक्खा सिधाना ने कहा कि अकाली दल के  कार्यकत्र्ताओं के हौसले इतने बुलंद थे कि किसी को भी चुटकी में अंदर करवाना या उससे मारपीट करना मलूका की शह पर होता था। लक्खा सिधाना ने मलूका को चैलेंज करते हुए कहा कि अगर ये आरोप झूठे हैं तो वह गुरुद्वारा साहिब में जाकर सौगंध खाएं। रामपुरा क्षेत्र में मलूका का इतना दबदबा था कि गांव भाईरूपा, मेहराज, भगता, फूल, कोठे गुरुके सहित अन्य कस्बों के लोग मलूका की गुंडागर्दी की दहशत में रह रहे थे। 

पीड़ित पुलिस के पास इंसाफ मांगने के लिए जाता तो उल्टा उसी पर ही मामला दर्ज हो जाता था। कुछ ऐसे मामले भी हैं, जिसे लेकर कांग्रेस विधायक व कार्यकत्र्ताओं ने रोष प्रदर्शन भी किए।  विधायक अजैब सिंह भट्टी ने नथाना की एक महिला पर हुए अत्याचार को लेकर 2 बार धरना भी दिया लेकिन उक्त जत्थेदारों के चलते पुलिस व सरकार ने किसी की एक न सुनी। इस संबंध में मलूका ने कहा कि उसने चुनौती अपने विरोधी व रामपुरा के विधायक गुरप्रीत सिंह कांगड़ को दी है। लक्खा सिधाना जैसे तो सैंकड़ों लोग उसके पास आते जाते रहे, वह उनकी परवाह नहीं करता। 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!