कांग्रेस सरकार बनने में राहुल ब्रिगेड से जुड़े नौजवानों ने निभाई अहम भूमिका

Monday, March 13, 2017 4:13 AM
कांग्रेस सरकार बनने में राहुल ब्रिगेड से जुड़े नौजवानों ने निभाई अहम भूमिका

मोगा(पवन ग्रोवर): पंजाब में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के दौरान भारी बहुमत से सत्ता पर काबिज हुई कांग्रेस पार्टी की जीत में राहुल ब्रिगेड से जुड़े नौजवान चेहरों ने अहम भूमिका निभाते हुए जहां पार्टी की जीत में बड़ा योगदान डाला, वहीं कई सीटों पर चुनाव मैदान में उतरे इन नौजवान चेहरों ने विरोधियों के दम गिराए।

जानकारी के अनुसार पंजाब की 117 विधानसभा सीटों में कांग्रेस पार्टी द्वारा घोषित टिकटों में राहुल गांधी से सीधे या असीधे रूप में जुड़े 9 नौजवान चेहरों को टिकटें दी गई थीं जिनमें से 8 नौजवानों ने विधानसभा की सीढिय़ां चढ़कर राहुल गांधी की पसंद पर मोहर लगाई है। कांग्रेस पार्टी ने विधानसभा हलका जीरा से टिकट के बड़े दावेदार तथा कांग्रेस किसान विंग के इन्द्रजीत सिंह जीरा की टिकट काटकर उनके बेटे कुलबीर सिंह जीरा को देकर चुनावी मैदान में उतारा, जहां कुलबीर सिंह ने शानदार प्रदर्शन करते हुए अपने विरोधी अकाली दल के थम हरी सिंह जीरा को 23 हजार वोटों के बड़े अंतर से हराया। 

इसी तरह माझा के हलका जंडियाला गुरु से पूर्व कैबिनेट मंत्री सरदूल सिंह के बेटे सुखविंद्र सिंह डैनी ने कांग्रेस पार्टी की सीट पर चुनाव लड़ा तथा पार्टी की उम्मीदों पर खरा उतरते हुए डैनी ने अपने विरोधी दलबीर सिंह को 18 हजार वोटों के बड़े अंतर से हराया। विधानसभा हलका धूरी से नौजवान नेता दलबीर सिंह गोल्डी भी पार्टी की उम्मीदों पर खरे साबित हुए जिन्होंने आम आदमी पार्टी के जसवीर सिंह को 2800 वोटों के फर्क से हराया। 

मालवा में पड़ते हलका संगरूर से कांग्रेस पार्टी ने पूर्व लोकसभा सदस्य तथा तेज-तर्रार नौजवान नेता विजयइन्द्र सिंगला को चुनाव मैदान में उतारा तथा उन्होंने अपने विरोधी आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार दिनेश बांसल को 30 हजार वोटों के बड़े फर्क से हराकर जीत प्राप्त की। माझा के हलका खेमकरण से नौजवान सुखपाल सिंह भुल्लर को पार्टी द्वारा टिकट दी गई जिन्होंने अकाली दल के नेता विरसा सिंह को 20 हजार वोटों के फर्क से हराया। पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह के जद्दी हलका रहे पायल से पार्टी द्वारा दी गई टिकट पर नौजवान नेता लखवीर सिंह लक्खा जीतने में कामयाब हुए जिन्होंने आम आदमी पार्टी के गुरप्रीत को 21 हजार वोटों के फर्क से हराया। 

माझा के हलका गुरदासपुर से नौजवान नेता बरिंद्रमीत सिंह पाहड़ा भी अकाली दल के निधड़क जरनैल गुरबचन सिंह बब्बेहाली को 29 हजार के करीब वोटों के फर्क से हराने में कामयाब हुए। विधानसभा हलका नवांशहर से कांग्रेस पार्टी ने 26 वर्षीय नौजवान अंगद सिंह को टिकट दी, जिन्होंने अपने विरोधी 72 वर्ष के अकाली उम्मीदवार जरनैल सिंह वाहद को 3300 के करीब वोटों के फर्क से हराकर मोर्चा फतेह किया। 

इसी तरह अकाली दल से किनारा करके कांग्रेस में शामिल होने वाले 25 वर्षीय नौजवान नेता तथा सांसद शेर सिंह घुबाया के बेटे दविंद्र सिंह घुबाया भी भाजपा नेता तथा कैबिनेट मंत्री सुरजीत कुमार ज्याणी को 265 वोटों से हराने में कामयाब हो गए। विधानसभा हलका तलवंडी साबो से नौजवान चेहरा खुशबाज जटाना चुनाव जीतने में कामयाब नहीं हो सके जिनको आम आदमी पार्टी की प्रो. बलजिंद्र कौर ने हरा दिया। पंजाब में कैप्टन अमरेंद्र सिंह 16 मार्च को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। चाहे कैप्टन द्वारा नए मंत्रिमंडल के लिए अपनी सूची बनाकर राहुल गांधी को भेजी जा रही है लेकिन अब यह देखना होगा कि कांग्रेस पार्टी मंत्रिमंडल में भी नौजवान चेहरों को स्थान देगी या नहीं।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!