अकाली-भाजपा सरकार ने 25 साल पंजाब के लोगों को धोखे में रखा: लक्की

10/23/2019 9:27:13 AM

जालंधर: पंजाब प्रदेश कांग्रेस (लेबर सैल) के को-चेयरमैन मलविन्द्र सिंह लक्की ने कहा है कि केन्द्र सरकार द्वारा योजना आयोग के सर्वे मुताबिक पंजाब एजुकेशन के मामले में 18वें नम्बर पर है। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि पंजाब रा’य की यह बदकिस्मती हमेशा रही है कि पंंजाब कुर्बानियों में नम्बर 1, खेतीबाड़ी में एक नम्बर, विदेशों में कमाई कर पैसा लाने में सबसे आगे, बाढ़ व भूकंप के समय सेवा भाव दिखाने में भी एक नम्बर पर रहा है। 

उन्होंने कहा कि 20 स्टेटों के सर्वे मुताबिक पंजाब की एजुकेशन के मामले में हालत काफी कमजोर है। लक्की ने कहा कि पंजाब में अकाली-भाजपा सरकार ने करीब 25 साल पंजाबियों से झूठे वायदे कर उन्हें धोखे में रखा। पंजाब के लिए कोई एजुकेशन पॉलिसी नहीं लाई गई। गठबंधन सरकार के समय शिक्षा मंत्री रहे सेवा सिंह सेखवां ने इस पॉलिसी को लाने की बात कही, जोकि ठंडे बस्ते में पड़़ गई। इसके बाद दलजीत सिंह चीमा ने इस विभाग के मंत्री रहते हुए बहुत लारे लगाए, लेकिन बच्चों का भविष्य संवारने के लिए कुछ नहीं किया।

आज भी एम.बी.बी.एस. के लिए नीट का पेपर केन्द्र सरकार के अधीन है, लेकिन ब"ाों को दाखिल करने के समय पहले प्राइवेट सीटें भरी जाती हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह भ्रष्टाचार फैला हुआ साफ दिखाई देता है। लक्की ने कहा कि महंगी पढ़ाई व रोजगार की कमी के कारण पंजाब के 80 से 85 प्रतिशत बच्चों को विदेश जाने के लिए मजबूर होना पड़ा। इस मौके पर करनैल सिंह भाटिया, विनोद कुमार, विनोद थापर, सर्बजीत सिंह व रणवीर ठाकुर भी मौजूद थे।


Vatika

Related News