रूठी पत्नी को मनाने गए पति ने निगला जहर

11/6/2019 11:22:38 AM

खन्ना: स्थानीय बसंत नगर के निवासी राजीव गांधी पुत्र मोहनलाल गांधी ने आज जगराओं में सल्फास की गोलियों का सेवन कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर जगराओं के सिविल अस्पताल में पहुंचाया, जहां पोस्टमार्टम के उपरांत आज शव वारिसों को सौंप दिया जाएगा। 
PunjabKesari
मिली जानकारी के अनुसार राजीव गांधी का विवाह ज्योति उर्फ प्रीति के साथ हुआ था। विवाह की यह नई पारी कुछ समय तक ठीक-ठाक चलने के उपरांत पटरी से उतर गई। इसके उपरांत आए दिन घर में क्लेश रहने लगा। पहले तो पत्नी के कहने पर पति ने खन्ना में ही अलग मकान में रहना शुरू कर दिया, के उपरांत भी झगड़ा निरंतर घटने की बजाय बढ़ता ही चला गया। इसी बीच पत्नी रूठकर अपने मायके जगराओं चली गई जिसके मनाने के लिए उसका पति भी जगराओं पहुंच गया। शर्तों के मुताबिक अपनी पत्नी के कहने पर उन लोगों ने जगराओं में ही एक मकान किराए पर ले लिया और वहीं रहने लग पड़े, लेकिन सोमवार को राजीव ने जहर निगल लिया, जिसे पहले जगराओं, फिर लुधियाना और खन्ना के आई.वी.वाई. अस्पताल में दाखिल करवाया गया। खन्ना के अस्पताल में इलाज के दौरान राजीव ने आज दम तोड़ दिया। 

मृतक राजीव गांधी के पिता मोहनलाल गांधी ने आरोप लगाया कि 3-4 दिन पहले पति-पत्नी में झगड़ा होने पर बेटा जगराओं गया था। दोनों में समझौते के बाद बेटा बहू के साथ जगराओं में अलग से कमरा लेकर रहने लगा था। कल शाम उन्हें फोन कर बताया गया कि बेटे ने जहर खा लिया है, जिसे लुधियाना के अस्पताल में लेकर जा रहे हैं। वह लुधियाना गए तो वहां इलाज ठीक न होने की बात कहकर निजी अस्पताल में ले जाने को कहा गया। वह बेटे को खन्ना के आई.वी.वाई. अस्पताल में ले आए, जहां उसकी इलाज के दौरान आज मौत हो गई। पिता मोहनलाल ने आरोप लगाते हुए कहा कि उनके बेटे को बहू व उसके परिवार ने जहर देकर मारा है।


Vatika

Related News