चन्नी बने पंजाब के 16वें मुख्यमंत्री, रंधावा और सोनी ने संभाली डिप्टी CM की कमान

9/20/2021 11:48:03 AM

चंडीगढ़: कैप्टन अमरिंदर सिंह की तरफ से इस्तीफ़ा देने के बाद मुख्यमंत्री के पद के नाम को लेकर चल रही कशमकश अब ख़त्म हो गई है। आज चरणजीत सिंह चन्नी ने राजभवन में पंजाब के 16वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। राजभवन में इस समारोह संबंधी सभी तैयारियां कल से ही शुरू हो गई थी। इतना ही नहीं इस समारोह में राहुल गांधी भी मुख्य तौर पर शामिल हुए। बीते दिन चरणजीत सिंह चन्नी के नाम पर हाईकमान की तरफ से मोहर लगा दी गई थी। जिसके बाद अब उन्हें मुख्यमंत्री बनाने पर पूरी पंजाब की सियासत का समीकरण बदल गया है।

सुखजिंदर सिंह रंधावा और ओपी सोनी बने डिप्टी सीएम
इस समारोह में सुखजिंदर सिंह रंधावा और ओपी सोनी ने भी डिप्टी सीएम के तौर पर शपथ ग्रहण की है। जानकारी के लिए आपको बता दें कि पंजाब को दो डिप्टी सीएम इस बार मिले है।  

मुख्यमंत्री की कुर्सी पर पहला दलित चेहरा
आज चरणजीत सिंह चन्नी इतिहास में अपना नाम पंजाब के पहले दलित मुख्यमंत्री के तौर पर दर्ज करवाएंगे। रविवार को दिनभर मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर सुगबुगाहटों का दौर चलता रहा। हालांकि शाम ढलते-ढलते कांग्रेस हाईकमान ने सभी सुगबुगाहटों पर विराम लगा दिया। इसके साथ मुख्यमंत्री की कुर्सी पर पहली बार किसी दलित चेहरे को बैठाने का इतिहास भी रच दिया गया। वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने दलित को मुख्यमंत्री बनाने पर कहा कि यह कांग्रेस ने सभी सियासी दलों को धोबी पछाड़ किया है। पंजाब में चन्नी उत्तर भारत के पहले दलित मुख्यमंत्री होंगे। उन्होंने कहा कि चन्नी सियासी चश्मे से हर बात को बारीकी से समझते हैं। 

कैप्टन नहीं हुए शामिल 
जानकारी के लिए आपको बता दें कि इस समारोह में कैप्टन अमरिंदर सिंह शामिल नहीं हुए। सभी की नजरें मुख्यमंत्री पर टिकी थी कि आज वह शामिल नहीं हुए। लेकिन अब खबर सामने है कि इस समारोह में कैप्टेन अमरिंदर सिंह शामिल नहीं होंगे। हालांकि उन्होंने बीते दिन ही चन्नी को मुख्यमंत्री बनने के बाद शुभकामनाएं दे दी थी। 

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tania pathak

Recommended News

static