Kisan Andolan: दिल्ली बॉर्डर पर किसानों ने बनाए 5 मोर्चे, फिर बसा दिया "शहीद भगत सिंह नगर"

punjabkesari.in Sunday, Dec 06, 2020 - 03:29 PM (IST)

-किसान आंदोलन 
-भारत बंद के समर्थन में उतरे कई राजनैतिक दल और अन्य संगठन

दिल्ली, जालंधर। केंद्र सरकार के तीन कृषि कानून केंद्र सरकार के गले की फांस बनते जा रहे हैं। पांचवें दौर की वार्ता में कृषि मंत्री ने कहा कि सरकार कृषि कानूनों में संशोधन करने को तैयार है तो किसान नेताओं ने केंद्र सरकार को बुरी तरह घेरते हुआ कहा कि "संशोधन करने मतलब है कि केंद्र सरकार जानती है कि कृषि कानून गलत हैं।" अलबत्ता किसानों की सरकार के साथ पांचवें दौर की वार्ता भी बेनतीजा रही और अब बाजी "यस या नो" पर आ गई है। किसानों का आंदोलन इतना मजबूत हो चुका हैं कि दिल्ली-हरियाणा के सिंघू और टीकरी बार्डर पर करीब 26 किलोमीटर तक फैल चुका है। किसानों ने अपने मोर्चों को पांच हिस्सों में बांट दिया है और बार्डर पर पांच छोटे-छोटे नगर बना दिए हैं। नगरों के नाम इतिहास में दर्ज महान शख्सियतों पर रखे गए हैं। इनमें बाबा बंदा सिंह नगर, चाचा अजीत सिंह नगर, बीबी गुलाब कौर नगर, शहीद भगत सिंह नगर और शहीद साधू सिंह तख़्तुपुरा नगर शामिल हैं। उधर 8 दिसंबर सोमवार को होने वाले "भारत बंद" के लिए कई राजनैतिक दल और गैर राजनीतिक एवं किसान संगठनों समर्थन का ऐलान किया है।

PunjabKesari    

 
पांच नगरों के नामों की अहमियत

-बाबा बंदा सिंह बहादुर ने 1710 में मुगलों को हराकर सिख साम्राज्य की स्थापना की।
-चाचा अजीत सिंह भगत सिंह के चाचा थे, वे मशहूर 'पगड़ी संभाल जट्टा' आंदोलन के नाम से जाने जाते हैं।
-बीबी गुलाब कौर गुलाब कौर स्वतंत्रता सैनानी थीं उनका जन्म 1890 में पंजाब के संगरूर में हुआ था। 
-शहीद भगत सिंह का ज्न्म 27 सितंबर 1907 को लायलपुर (पंजाब पाकिस्तान) में हुआ था वह किसान आंदोलन की प्रेरणा हैं। 
-शहीद साधू सिंह भारतीय किसान यूनियन (एकता) के नेता साधू सिंह तख़्तुपुरा की 2010 में कथित तौर पर हत्या कर दी गई थी।

भारत बंद के समर्थन में कौन
400 से ज्‍यादा किसान संगठन
कांग्रेस
आम आदमी पार्टी
तेलंगाना की टीआरएस
तृणमूल कांग्रेस
राष्ट्रीय लोक दल
राष्ट्रीय जनता दल
राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) 
समाजवादी पार्टी
सीपीआई
सीपीआईएम
सीपीआई (एमएल)
आरएसपी
ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक
इंडियन नेशनल ट्रेड यूनियन
ऑल इंडिया ट्रेड यूनियन कांग्रेस
हिंद मजदूर सभा
सेंटर ऑफ इंडियन ट्रेड यूनियन्स
ऑल इंडिया यूनाइटेड ट्रेड यूनियन सेंटर
ट्रेड यूनियन को-ऑर्डिनेशन सेंटर

इन राज्यों में प्रदर्शन की उम्मीद
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और हरियाणा में भी भारत बंद के दिन प्रदर्शन होने की उम्मीद है। दिल्ली सीमा (सिंघु बॉर्डर और गाज़ीपुर) पर डटे किसानों ने उत्तर प्रदेश और हरियाणा के किसानों से उनके समर्थन में आने की अपील की है. उन्होंने कहा है कि सभी मिलकर दिल्ली को घेरें और दिल्ली की सीमाओं को सील करने में उनकी मदद करें।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Suraj Thakur

Related News

Recommended News