पंजाब विधानसभा चुनाव : PM मोदी और केजरीवाल पर बरसीं प्रियंका गांधी

punjabkesari.in Thursday, Feb 17, 2022 - 02:52 PM (IST)

पठानकोट : पठानकोट में कांग्रेस के लिए चुनाव प्रचार करते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने पंजाब और पंजाबियत के बारे में बोलते कहा कि वे किसी के सामने झुकते नहीं है। पंजाबी केवल अपने मालिक परमात्मा के सामने सिर झुकाते हैं। राजनीतिक दल जो पंजाबियत की बात करते हैं उद्योगपतियों के सामने झुकते हैं। प्रधानमंत्री मोदी और केजरीवाल दोनों सरकारें केवल अमीरों के लिए हैं। केजरीवाल सत्ता के लिए किसी के भी सामने झुक जाएगा। केजरीवाल ड्रग माफिया के सामने झुक गए।

इसके अलावा उन्होंने वहां उपस्थित जनता को संबोधित करके कहा कि जो भी सरकारें चल रही हैं वो अमीरों के लिए चल रही हैं। पठानकोट में मध्यम वर्गीय दुकानदार, छोटे उद्योगपतियों, छोटे बिजनेसमैनों को प्रधानमंत्री मोदी के कारण कितना कुछ झेलना पड़ा। उन्हें बहुत सी परिस्थितयों का सामना करना पड़ा जैसे कि नोटबंदी, जी.एस.टी., कोरोना और फिर लॉकडाउन। इन परिस्थितयों ने उनकी मुश्किलों को बड़ा दिया लेकिन केंद्र सरकार ने उनकी ओर ध्यान तक नहीं दिया। भाजपा से उन्हें कोई राहत नहीं मिली। उन्होंने कहा कि पंजाब में रोजगार की समस्या है। जितनी भी नौकरियां है सब अमीरों को दे दी गईं। केंद्र सरकार केवल रोजगार देने का, रोजगार पैदा करने का ऐलान करती है लेकिन यह वादे खोखले हैं। नौजवान बेरोजगार हैं। 

यह भी पढ़ें : 'भगवंत मान' को पटियाला में प्रचार करने से रोका, जानें क्या है कारण

कृषि कानूनों पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ऐसे बिल लेकर आना चाहती थी जो किसानों के हित में नहीं थे। इसका विरोध करते हुए 1 साल तक किसान सड़कों पर बैठे रहे। उनके करीब 700 किसान इसी लड़ाई में शहीद हो गए लेकिन प्रधानमंत्री मोदी 5-7 किलोमीटर का सफर तय कर उनसे मिलने तक नहीं आए। इतना ही नहीं उनका हाल तक नहीं जाना बल्कि बाहरी देशों की सैर करने में व्यस्त रहे। उन्होंने 16 हजार करोड़ के 2 हवाई जहाज खरीद लिए लेकिन गन्ना किसानों का बकाया नहीं दे पाए। उन्होंने कहा कि पी.एम. मोदी की नीयक खोखली है।  कृषि कानून पर हामी भरने वाले सबसे पहले शख्स केजरीवाल ही थे। ऐसे में किसानों को लेकर उन पर भरोसा कैसे किया जा सकता है। यदि किसान 1 साल तक आंदोलन न करते तो कृषि कानून वापिस नहीं लिए जाते।

चुनावों को लेकर उन्होंने कहा कि सभी राजनीतिक दल लोगों से धर्म के नाम पर, सुरक्षा के नाम पर, रोजगार के नाम पर वोट मांगते हैं लेकिन कोई भी विकास के बारे में बात तक नहीं करता। मोदी और केजरीवाल के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि ‘बड़े मियां तो बड़े मियां छोटे मियां सुभान अल्ला’ इसमें बड़े मियां नरेंद्र मोदी और छोटे मियां केजरीवाल हैं। उन्होंने कहा कि दोनों एक समान हैं। दिल्ली में पुलिस पर केजरीवाल का कोई बस नहीं चलता ऐसे में वह पंजाब में लॉ एंड ऑर्डर को कैसे कायम करेंगे। सरकार कैसे बनाएंगे जबकि उसको संभालना तक नहीं आता। इतना ही नहीं मोदी की इजाजत के बिना दिल्ली में कोई बिल पास नहीं होता। उन्होंने कहा कि दोनों एक जैसे हैं, एक ने गुजरात मॉडल दिया और उसके बल पर वोटें भी बटोर लीं लेकिन कहीं भी गुजरात मॉडल दिखाई नहीं देता। यह मॉडल सिर्फ अमीरों के लिए था, इससे कोई विकास नहीं हो पाया। दूसरी ओर केजरीवाल कह रहे हैं कि दिल्ली मॉडल दिखाया जाएगा। 

यह भी पढ़ें : इस नामी शख्सियत को छोड़कर सभी पार्टियों के प्रधान अपने उम्मीदवारों के हक में कर रहे प्रचार

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में दिल्ली का क्या हाल हुआ यह सब जानते हैं। किसी प्रकार की कोई सुविधा नहीं थी। लोग सड़कों पर दम तोड़ रहे थे। स्वास्थ्य सुविधाएं, शिक्षा संस्थान नहीं है। मोदी ने कहा था कि वे 15 लाख रुपए देंगे लेकिन किसी को कोई पैसा नहीं मिला। ऐसे ही केजरीवाल कह रहे हैं कि 7 लाख दिए जाएंगे जो महज खोखली बाते हैं। मोदी और केजरीवाल ने विज्ञापनों पर हजारों खर्च किए हैं लेकिन काम कोई नहीं किया। यू.पी. में विकास नहीं है, रोजगार नहीं है, महंगाई बहुत है, बच्चे अशिक्षित हैं। आंगनवाड़ी वर्कर, आशा वर्कर दुखी हैं, प्रदर्शन कर रही हैं लेकिन सरकार उनका साथ नहीं दे रही।  

PunjabKesari

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sunita sarangal

Related News

Recommended News