ट्रायल के बाद भारत में 1 अरब कोरोना वैक्सीन का प्रोडक्शन शुरू, पढ़ें अच्छी खबर

6/7/2020 3:10:17 PM

हैल्थ डैस्क: कोरोना वायरस से जंग के बीच गुड न्यूज यह है कि पुणे में वैक्सीन का उत्पादन शुरू हो गया है। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की तरफ से तैयार वैक्सीन के लिए ब्रिटिशस्वीडिश फार्मास्यूटिकल कम्पनी आस्ट्राजेनेका ने भारत से हाथ मिलाया है। आस्ट्राजेनेका ने पुणे स्थित सीरम इंस्टीच्यूट के साथ मिलकर वैक्सीन निर्माण शुरू कर दिया है। ये दोनों मिलकर 1 अरब कोरोना वैक्सीन को भारत समेत कम आय वाले देशों में पहंचाएंगे।  बता दें कि वैक्सीन बनाने की रेस में ऑक्सफोर्ड युनिवर्सिटी सबसे आगे है। वहीं पुणे स्थित सीरम इंस्टीच्यूट (एस.आई.आई.) यहां विकसित होने वाली वैक्सीन के साथ काम कर रहा है। हाल ही में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ने इस वैक्सीन के ट्रायल के लिए सबसे पहले 18 से 55 साल के लोगों को चुना है। पहला ट्रायल सफल होने के बाद दसरे और तीसरे चरण का ट्रायल शुरू किया गया है। सभी चरणों को मिलाकर करीब 10 हजार से अधिक लोगों पर ट्रायल होना है।

PunjabKesari

दिसम्बर 2020 तक होगी सप्लाई
ब्रिटिश दवा निर्माता कम्पनी का नई वैक्सीन के निर्माण और डिस्ट्रीब्यूशन में मदद देने वाली संस्था सेपी और गवी के साथ 750 मिलियन डालर का समझौता हुआ है। इसके माध्यम से संभावित वैक्सीन की 30 करोड़ डोज की खरीद और वितरण किया जाएगा। वैक्सीन की डिलीवरी दिसम्बर 2020 तक शुरू हो सकती है। एस.आई.आई.के सी.ई.ओ. पूनावाला ने बताया कि पिछले 50 सालों में एस.आई.आई. ने विश्व स्तर परवैक्सीन निर्माणऔर आपूर्ति में महत्वपूर्ण क्षमता बनाई है। आस्ट्राजेनेका के सी.ई.ओ. पैस्कल सोरिअट ने कहा कि कंपनी वैक्सीन के निर्माण से लाभ नहीं कमाएगीजब तक डब्ल्यू.एच.ओ.महामारी खत्म होने का ऐलान नहीं करता।

सबसे अधिक प्रभावित छठा देश बना भारत
भारत इटली को पीछे छोड़कर कोरोना वायरस वैश्विक महामारी से बुरी तरह प्रभावित दुनिया का छठा देश बन गया है। देश में पिछले 24 घंटों में सबसे ज्यादा 9887 नए मरीज सामने आने के साथ ही कोविड19 के मामले 2,36,657 हो गए हैं। भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के कारण 294 मरीजों ने दम तोड़ दिया जिसके बाद मृतकों की संख्या बढकर 6642 हो गई है। अमरीका के जॉन्सहॉपकिन्स विश्वविद्यालयों के आंकड़ों के मुताबिक अमरीका, ब्राजील, रूस, स्पेन और ब्रिटेन के बाद कोरोना वायरस से सर्वाधिक प्रभावित देशों की सूची में भारत अब छठे स्थान पर आ गया है।


 


Suraj Thakur

Related News