Punjab Wrap Up: 12वीं के Students के लिए खुशखबरी, PSEB ने लिया बड़ा फैसला वहीं कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ‘Flying Sikh’ को लेकर किया ये बड़ा ऐलान, पढ़ें दिन भर की बड़ी खबरें

punjabkesari.in Saturday, Jun 19, 2021 - 09:07 PM (IST)

जालंधर: 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्रों के लिए खुशखबरी है। पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड ने बोर्ड परीक्षाएं रद्द कर दी हैं। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शनिवार को महान एथलीट की याद में स्पोर्टस यूनिवर्सिटी, पटियाला में मिल्खा सिंह की चेयर स्थापित करने का ऐलान किया है। ऐसी ही दिनभर की खास खबरें हम आपके लिए लाए हैं जो आप अपने व्यस्त शेड्यूल के चलते मिस कर जाते हैं। इस न्यूज बुलेटिन में हम आपको पंजाब से जुड़ी बड़ी खबरें बताने जा रहे हैं।

12वीं के Students के लिए खुशखबरी, PSEB ने लिया बड़ा फैसला
12वीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्रों के लिए खुशखबरी है। पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड ने बोर्ड परीक्षाएं रद्द कर दी हैं। जानकारी के अनुसार पी.एस.ई.बी. ने फैसला लिया है कि 12वीं कक्षा के छात्रों का बिना एग्जाम दिए ही रिजल्ट घोषित किया जाएगा। शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने कहा कि सरकार ने पैरेंट्स और स्टूडेंट की परेशानी को देखते हुए उक्त फैसला किया है। क्योंकि उनको परेशानी थी की स्टूडेंट्स ने उच्च शिक्षा के लिए दाखिला प्रक्रिया में भाग लेना है। ऐसे में परिणाम घोषित किया जाना बेहद जरूरी है।

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ‘Flying Sikh’ मिल्खा सिंह को लेकर किया ये बड़ा ऐलान
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शनिवार को महान एथलीट की याद में स्पोर्टस यूनिवर्सिटी, पटियाला में मिल्खा सिंह की चेयर स्थापित करने का ऐलान किया है। बता दें कि मिल्खा सिंह का कल देर रात कोरोना के कारण निधन हो गया था। 

big relief sunday curfew ends in chandigarh

बड़ी राहतः चंडीगढ़ में Sunday का कर्फ्यू खत्म, सुखना Lake के खुलने का समय भी बदला
कोरोना के खतरे को देखते हुए पिछले कई हफ्तों में रविवार को लगाए जा रहे कर्फ्यू को अब हटा दिया गया है। चंडीगढ़ के प्रशासक वी.पी. सिंह बदनौर ने शुक्रवार को कर्फ्यू  हटाने का फैसला लिया। इसके साथ ही अब शहर में सिर्फ रात्रि कफ्र्यू की सख्तियां लागू रहेंगी। प्रशासक की मंजूरी के बाद उनके सलाहकार मनोज परिदा ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। आदेश में रविवार को सुखना लेक के  खुलने के समय में भी बदलाव किए गए हैं। रविवार को सुखना लेक सुबह 5 बजे से 9 बजे तक और शाम को 6 बजे से 8 बजे तक ही खुली रहेगी। बाकी समय सुखना लेक पर किसी के भी जाने पर प्रतिबंध रहेगा।

सरेआम गोलियां चलाने से एक की मौत, बड़ी वजह आई सामने
तरनतारन के गांव गहिरी में जमीन के विवाद को लेकर कुछ व्यक्तियों की तरफ से गोलियां चलाने का मामला सामने आया है, जिस कारण एक व्यक्ति की मौत हो गई। इस हमले में मृतक का भतीजा जख्मी हो गया है। इस पर पुलिस ने तीन व्यक्तियों के खिलाफ थाना सराए अमानत खान में मामला दर्ज कर आगे की कार्यवाही शुरू कर दी है।

बड़ी वारदातः टांडा में अज्ञात व्यक्तियों ने फायर कर पास्टर से छीनी कार
गांव तलवंडी डडिया से बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल, यहां गत रात अज्ञात व्यक्तियों द्वारा हवाई फायर करते हुए पास्टर से गाड़ी छीनी गई, जिसके बाद इलाके में दहशत का माहौल पैदा हो गया।

नवजोत सिद्धू का बड़ा बयान: पंजाब की खातिर ठुकराए 10-10 करोड़ के ऑफर
कैप्टन सरकार की तरफ से दो विधायकों के लड़कों को नौकरी देने पर नवजोत कौर सिद्धू ने पंजाब सरकार पर तीखा हमला किया है। नवजोत कौर सिद्धू ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि आधार टैस्ट पास किए बिना किसी को भी इंस्पेक्टर या तहसीलदार बना दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह पंजाब के नौजवानों के साथ अन्याय है। क्योंकि वह पहले सभी टैस्ट पास करते हैं और फिर बड़ी मेहनत के बाद इन नौकरियों तक पहुंचते हैं। उन्होंने कहा कि यदि वह डॉक्टर बने हैं तो इसके लिए उन्होंने पहले बहुत पढ़ाई की है। परन्तु मेरा मानना है कि किसी को भी इस तरह नौकरी नहीं देनी चाहिए। ख़ासकर उनको जो आर्थिक पक्ष से सही है।

intresting milkha singh s love story read whole story

फिल्मी थी Milkha Singh की लव स्टोरी: हाथ पर नंबर लिखने से हुई शुरुआत और CM की मदद से हुई शादी
बीती रात 'फ्लाइंग सिख' नाम से मशहूर मिल्खा सिंह 91 वर्ष की उम्र में जिंदगी से जंग हार गए। चंडीगढ़ के अस्पताल में उन्होंने 11:24 बजे अंतिम सांस ली। उनके निधन पर देश सहित पूरा संसार शोक व्यक्त कर रहा है। जानकारी के लिए आपको बता दें कि उनकी पत्नी की मौत भी चार दिन पहले कोरोना वायरस के कारण हो गई थी। वह अपनी तबियत क्रिटिकल होने के कारण उनके अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाए थे। लेकिन बीते दिन देर रात उनके निधन ने एक और गहरा दुःख परिवार को दे दिया। उनकी पत्नी और निर्मल मिल्खा सिंह भी नेशनल वॉलीबाल कैप्टन रह चुकी थी। दोनों का खेल के प्रति गहरा रुझान इनको और करीब लेकर आया था।  मिल्खा सिंह और उनकी पत्नी निर्मल मिल्खा सिंह का प्यार जितना असीम था उतनी ही दिलचस्प उनकी लव स्टोरी भी है। 

SC के आदेशों के बाद गैंगस्टर भुल्लर के घर के बाहर बड़ी हलचल, पुलिस तैनात
वेस्ट बंगाल में एनकाउंटर के दौरान मारे गए खतरनाक गैंगस्टर जयपाल भुल्लर की मौत के 10 दिन बाद भी संस्कार नहीं हो सका है। उधर सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के बाद जिला प्रशासन ने जयपाल भुल्लर के घर के बाहर पोस्टर चिपका दिए हैं। सुप्रीम कोर्ट ने परिवार को जयपाल भुल्लर की लाश मोर्चरी में रखवाने के आदेश दिए हैं। इसलिए सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब सरकार को भी आदेश जारी किए हैं। इसके बाद प्रशासन की तरफ से जयपाल के घर के बाहर पुलिस भी तैनात कर दी गई है।

PM मोदी ने भेजे 30 हजार समझ खर्च कर दिए पैसे, कुछ और ही निकली सच्चाई
माछीवाड़ा इंद्रा कालोनी निवासी रीठू नाथ ने अपनी बेटी के विवाह के लिए बैंक में 30 हज़ार रुपए जमा करवाए थे जो किसी दूसरे खाते में चले गए और आज यह गरीब परिवार अपनी राशि लेने के लिए कभी बैंक और कभी पुलिस थाने के चक्कर लगा रहा है, जिन की कोई सुनवाई नहीं हो रही। रीठू नाथ ने बताया कि उसकी बेटी सलमा का खाता इंडियन बैंक में है, जिसमें उसने 30 मार्च को 30,000 रुपए जमा करवा दिए ताकि विवाह के नजदीक वह पैसे निकलवा लें।

goodbye flying sikh things you didn t know about milkha singh s life

अलविदा फ्लाइंग सिख : मिल्खा सिंह के जीवन की वो बातें जो आप नहीं जानतें होंगे...
मिल्खा सिंह के लिए ट्रैक एक खुली किताब की तरह था जिससे उनकी जिंदगी को ‘ मकसद और मायने ‘ मिले और संघर्षो के आगे घुटने टेकने की बजाय उन्होंने इसकी नींव पर उपलब्धियों की ऐसी अमर गाथा लिखी जिसने उन्हें भारतीय खेलों के इतिहास का युगपुरूष बना दिया। अपने कैरियर की सबसे बड़ी रेस में भले ही वह हार गए लेकिन भारतीय ट्रैक और फील्ड के इतिहास में अपना नाम स्वर्णाक्षरों में अंकित करा लिया । 

बड़ी खबरः केंद्रीय जेल में बंद हवालाती ने पगड़ी से फंदा लगाया किया  Suicide
केंद्रीय जेल में बंद एक हवालाती की तरफ से शुक्रवार शाम पगड़ी से फंदा लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त करने का मामला सामने आया है। पुलिस की तरफ से मामले की जांच की जा रही है। मृतक हवालाती रामसरूप (38) निवासी गांव नाथूवाला ज़िला अलवर (राजस्थान) एन्न. डी. पी. एस. एक्ट के तहत केंद्रीय जेल में बंद था।आरोपी को 24 मई 2021 को 360 नशीली गोलियों सहित गिरफ़्तार किया गया था और थाना संगत में मामला दर्ज था। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sunita sarangal

Related News

Recommended News