अपराधियों को अरेस्ट करने वाला खुद बना अपराधी, 5 हजार की रिश्वत लेता गिरफ्तार

1/17/2021 12:26:44 PM

लुधियाना(स.ह.): एक कैमिस्‍ट को झूठे मामले में फंसाने की धमकी देकर रिश्‍वत की रकम वसूल रहे एक ए.एस.आई. सुरेंद्र कुमार को जोधेवाल पुलिस ने 5 हजार रुपए रिश्‍वत लेते हुए आज गिरफ्तार कर लिया है। अपने आप में यह मामला अनोखा इसलिए भी है कि यह आरोपी ए.एस.आई. इस इलाके के थाने में तैनात ही नहीं था। उसकी ड्यूटी सलेम टाबरी थाने के इलाके में है। ऐसे मामलों में अकसर विजीलैंस भ्रष्‍टाचार के आरोपी को गिरफ्तार करती है, परतु इस मामले में संबंधित थाने की पुलिस ने ए.एस.आई. को गिरफ्तार कर लिया है।

आरोपी ए.एस.आई. पर प्राइवेट ढंग से पुलिस की कार्रवाई चलाने का भी आरोप है। उसके साथ पुलिस का एक वालंटियर रह चुका युवक भी है। सूत्रों से पता चला कि इस ए.एस.आई. को इलाके के एक उच्‍चाधिकारी का समर्थन प्राप्‍त है। जिसकी शह पर आरोपी वालंटियर की मदद से दुकानदारों को डरा-धमकाकर भारी भरकम रकम वसूलता था और अपने थाना क्षेत्र से बाहर जाकर भी लोगों को अपना शिकार बनाता था।

सूत्रों के अनुसार आरोपी ए.एस.आई. ने खुलासा किया है कि वह एक उच्‍चाधिकारी को हफ्ता भरता है। पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि कहीं उसके संबंध नशा तस्‍करों के गिरोह के साथ तो नहीं है। उसके पास मौजूदा कारों को लेकर भी पुलिस अलग ढंग से तफ्तीश में जुटी है। आरोपी 2 बार जिले में चौकी इंचार्ज भी रह चुका है।

कैमिस्‍ट से ली थी 27,000 रुपए की रिश्‍वत
न्‍यू शक्ति नगर इलाके के रहने वाले 37 वर्षीय शिकायतकर्ता गौरव दत्त ने बताया कि बस्‍ती जोधेवाल चौक के निकट पारस मैडीकियर पर पिछले 2 साल से नौकरी रहा है। वीरवार दोपहर 1 और 1.30 बजे के बीच वर्दी में सुरेंद्र कुमार आया और खुद को जोधेवाल इलाके का ए.एस.आई. बताते हुए धमकाने लगा कि दुकान पर नशा बेचा जा रहा है। वह केस दर्ज करवा देगा अगर उसे 50,000 रुपए नहीं दिए गए। दुकान का मालिक गगनदीप मनचंदा उस वक्‍त मौजूद नaहीं था। 

ए.एस.आई. उसे डरा धमकाकर 22,000 रुपए की नकदी के अतिरिक्‍त सैक्‍स पावर बढ़ाने वाले शक्ति वर्धक कैप्‍सूल के 7-8 पत्ते भी ले गया और जाते वक्‍त कह कर गया कि बाकी रकम वह कल वसूल करने आएगा तथा इलाके के एस.एच.ओ. से भी उसकी सैटिंग करवा देगा। मालिक जब दुकान पर आया तो उसने सारी बात उसे बताई। जिसके बाद वह जोधेवाल थाने गए और इसकी शिकायत उच्‍चाधिकारियों से भी की। जिसके बाद शिकायतकर्ता ने सबूत के तौर आरोपी व उसके बीच मोबाइल पर हुई वार्ता भी रिकार्ड की।

उधर मामले को गंभीरता से लेते हुए आला अधिकारी ने आरोपी को रंगे हाथ पकड़ने के लिए टेक्निकल स्‍पोर्ट एंड फॉरेंसिक विभाग के ए.सी.पी. जसवीर सिंह की ड्यूटी लगाई, जिन्‍होंने टीम के साथ ए.एस.आई. सुरेंद्र को 5,000 रुपए रिश्‍वत लेते हुए काबू कर लिया। थाना प्रभारी इंस्पैक्टर गोल्‍डी विर्दी ने बताया कि आरोपी के खिलाफ करप्‍शन एक्‍ट का केस दर्ज करके एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है।

जा सकती है नौकरी
एक उच्‍चाधिकारी ने बताया कि नशे से जुड़े मामले को लेकर पुलिस कमिश्‍नर बेहद सख्‍ती के मूड में है और किसी को बख्‍शने वाले नहीं है। इस मामले को लेकर आरोपी ए.एस.आई. की संपत्ति की भी जांच की जा रही है और उसकी नौकरी भी जा सकती है। बहरहाल आने वाला वक्‍त ही बताएगा की उंठ किस करवट बैठता है।

वालंटियर को जमकर लगाई लताड़
सूत्रों ने बताया कि जिस वक्‍त ए.एस.आई. पर शिकंजा कसा तो वालंटियर भी वहां मौजूद था। इसके बाद एस.पी. रैक के अधिकारी ने उसको जमकर लताड़ लगाई, लेकिन बाद में उसे चेतावनी देकर छोड़ दिया गया। इस वालंटियर पर इलाके के लोगों ने कई गंभीर आरोप भी लगाए हैं।


Sunita sarangal

Recommended News