सिद्धू-मजीठिया समर्थकों बीच हुई खूनी झड़प, जानें क्या था मामला

punjabkesari.in Monday, Feb 21, 2022 - 11:16 AM (IST)

अमृतसर (जश्न): राज्य भर में तीखी चर्चा का विषय बनी हॉट सीट अमृतसर हलका पूर्वी से 2 दिग्गज कहलवाने वाले नेताओं के बीच जो लड़ाई चल रही है, उसे लेकर कांग्रेस और शिरोमणि अकाली दल के वर्करों में काफी गर्मा-गर्मी देखने को मिल रही है। बतानेयोग्य है कि जिला प्रशासन ने हलका पूर्वी के कई बूथों को संवेदनीशील ऐलान किया गया है। इस हॉट सीट पर कांग्रेस से नवजोत सिंह सिद्धू और शिरोमणि अकाली दल से बिक्रम सिंह मजीठिया आमने-सामने हैं। 

यह भी पढ़ेंः अब सबको 10 मार्च का इंतजार, किस पार्टी के सिर पर सजेगा ताज

उक्त दोनों पुरानी पार्टियों के समर्थकों के बीच चल रही गर्मा-गर्मी शनिवार देर रात उस समय विस्फोटक रूप धारण कर गई, जब वेरका इलाके में ठेके वाली गली पर दोनों पक्षों के समर्थकों बीच खूनी झड़प हो गई और गोलियां भी चली। उधर प्रशासन ने इस मामले को लेकर काफी गंभीरता दिखाई और कुछ समय बाद मामले को लेकर अकाली दल के साथ सम्बन्धित 4 वर्करों खिलाफ इरादा कत्ल का केस दर्ज करके आगे की कार्यवाही शुरू कर दी। खबर लिखे जाने तक अभी तक किसी मुलजिम की गिरफ्तारी नहीं हुई। 

यह भी पढ़ेंः अकाली-बसपा के उम्मीदवार की चुनाव आयोग को पहुंची शिकायत, लगे ये आरोप

थाना वेरका के इंचार्ज सुखजीत सिंह ने बताया कि पुलिस ने इस पूरे घटनाक्रम के सम्बन्ध में अकाली नेता उपकार सिंह संधू, लखबीर सिंह मौनी, मनदीप सिंह मन्ना और बिक्रम सिंह हुन्दल खिलाफ केस दर्ज कर लिया। जिक्रयोग्य है कि उपकार सिंह संधू हाल ही में वापिस शिरोमणी अकाली दल में शामिल हुए थे। वह शिरोमणि अकाली दल में पूर्व जिला प्रधान भी रह चुके हैं और श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के बाद शिरोमणि अकाली दल छोड़ कर पार्टी छोड़ गए थे।

यह भी पढ़ेंः वोट को लेकर कांग्रेस और अकाली कार्यकर्ताओं के बीच झड़प, फायरिंग

क्या था मामला 
दरअसल यह सारा मामला वेरका में शनिवार रात भाव वोटिंग से कुछ घंटे पहले घटा। इस सभी मामले सम्बन्धित दोष यह है कि शनिवार देर रात अकाली दल के नेता और समर्थक वोटरों को अपनी तरफ खींचने और अपने हक में वोटें डालने के लिए सूट आदि बांट रहे थे। इस दौरान जब यह सूट बांटे जाने की सूचना कांग्रेस के सीनियर नेता और सिद्धू के खासमखास के नाम के साथ जाने जाते वेरका के निवासी हरपाल सिंह वेरका को मिली तो वह तुरंत वेरका की ठेके वाली गली में पहुंच गए। इस दौरान सूट बांटने और वोटरों को लुभाने को लेकर दोनों धड़ो के समर्थक आपस में उलझे और हाथापाई हो गए। इस पूरी घटना में दोनों पक्षों के 2-2 लोग घायल हो गए हैं। दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी के वर्करों पर लोगों को शराब बांटने के दोष लगे हैं। फिलहाल पुलिस ने चार अकाली समर्थकों खिलाफ इरादा कत्ल का मामला दर्ज कर लिया है। 

PunjabKesari

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News