श्री गुरु तेग़ बहादर जी को समर्पित सुलेख मुक़ाबले आज से

10/26/2020 9:53:27 AM

लुधियाना (विक्की) : पंजाब सरकार द्वारा श्री गुरु तेग़ बहादर जी के 400 वर्षा प्रकाश पर्व के सम्बन्ध में करवाए जा रहे समारोहों की श्रृंखला में स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षा मंत्री विजय इंद्र सिंगला के नेतृत्व में सुंदर लेखन (सुलेख) मुक़ाबले आज (26 अक्तूबर) से करवाए जा रहे हैं। सचिव स्कूल शिक्षा कृष्ण कुमार की देख -रेख में राज्य शिक्षा खोज और प्रशिक्षण संस्था द्वारा करवाए जाने वाले इन मुक़ाबलों के अंतर्गत राज्य के सरकारी स्कूलों के विद्यार्थी अपनी प्रस्तुती के द्वारा गुरु तेग़ बहादर जी के प्रति अपनी श्रद्धा व्यक्त कर रहे हैं। सुलेख मुक़ाबलों के सम्बन्ध में इबारत (पैरा) मुख्य कार्यालय द्वारा ज़िला नोडल अधिकारियों के द्वारा मुक़ाबले से पहले विद्यार्थियों तक पहुँचाई जाएगी।

क़लम और सियाही का करना होगा प्रयोग
एस.सी.ई.आर.टी. की सहायक निर्देशिका शिवानी सेतिया ने बताया कि सुलेख मुक़ाबलों की प्रस्तुतीकरण को विद्यार्थी 26 से 30 अक्तूबर तक सोशल मीडिया के विभिन्न साधनों के द्वारा अपलोड करेंगे और 31 अक्तूबर रात 12 बजे तक स्कूल प्रमुख अपने स्कूल के परिणाम दिए हुए लिंक पर अपलोड करेंगे। सुलेख रचना के लिए विभाग द्वारा पंजाबी, हिंदी और अंग्रेज़ी में गुरु तेग़ बहादर जी से सम्बंधित पैरे भेजे जाएगे। जिन की सुलेख रचना के लिए प्राइमरी और मिडल विंग के लिए 40 मिनट और सेकंडरी विंग के लिए 35 मिनट का समय होगा। प्राइमरी वर्ग के लिए 35 शब्दों वाला पैरा, मिडल और सेकंडरी वर्ग के लिए 50 शब्दों वाला पैरा होगा। सुलेख रचना बैंत (काने) या बाँस की क़लम के द्वारा एक रंग की सियाही से की जाएगी। विभाग द्वारा दिए गए आकार अनुसार ही पेपर (शीट) का प्रयोग किया जाएगा। शिवानी सेतिया ने बताया कि सरकारी स्कूलों के अध्यापक की प्रेरणा के कारण इन मुक़ाबलों में बड़ी संख्या में विद्यार्थियों उत्साहपूर्वक भाग ले रहे है।


Aacharya Kamal Nandlal

Related News