बेटे की मौत का सच छुपा किया अंतिम संस्कार, पोती ने खोला राज तो लोग रह गए हैरान

punjabkesari.in Thursday, Nov 24, 2022 - 06:12 PM (IST)

माछीवाड़ा साहिब: नजदीकी गांव भौरला बेट में पिता से दुखी बेटे ने आत्महत्या कर ली। मृतक की पहचान जगतार सिंह उर्फ जग्गी के रूप में हुई है। मृतक की बेटी जश्नप्रीत कौर ने पुलिस में बयान दर्ज कराया कि उसके दादा हरनेक सिंह यू.पी. में खेती का काम करता है जो कुछ दिन पहले ही उनके नजदीकी गांव आया हुआ है। 

जानकारी देते जश्नप्रीत ने बताया कि उसके दादाजी एक डैक लाए थे जो खराब हो गया था और 22 नवंबर को शराब पीने के बाद उन्होंने पिता जगतार सिंह से कहा कि उसने डैक खराब कर दिया है। इस दौरान उन्होंने जगतार को थप्पड़ भी मारे। इसके बाद दोनों को समझाकर कमरे में सोने के लिए भेज दिया गया। सुबह करीब 6 बजे जब वह अपने पिता के कमरे में गई तो देखा कि उन्होंने फांसी लगा ली है। उसके चिल्लाने पर उसकी बहन और दादा कमरे में आ गए। इसके बाद उनकी मदद से शव को बिस्तर पर लिटा दिया। दादाजी ने उन्हें सबसे यह कहने को कहा कि जगतार की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई है। जश्नप्रीत ने बताया कि जब पिता को दादा ने थप्पड़ मारे थे तो उन्होंने कहा था कि ऐसी जिंदगी से तो मौत बेहतर है। अपमान बर्दाश्त न करने पर उन्होंने आत्महत्या कर ली। इसके बाद पुर्तगाल में रहने वाली जश्नप्रीत की मां का फोन आया, तो उसने पूरा सच बताया। उसकी मां ने अपने रिश्तेदारों के जरिए पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मृतक जगतार सिंह की बेटी जश्नप्रीत कौर के बयानों के आधार पर दादा हरनेक सिंह के खिलाफ धारा 306 व 201 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

बेटे के अंतिम संस्कार के बाद पिता के खिलाफ पर्चा दर्ज

जब हरनेक सिंह के बेटे जगतार सिंह ने अपने पिता से दुखी होकर आत्महत्या कर ली तो उसके दादा ने जानबूझकर गांववालों और रिश्तेदारों को हार्ट अटैक बताकर शव का अंतिम संस्कार कर दिया। इस मामले की परतें तब खुल गईं जब मृतक की बेटी ने दादा के खिलाफ अपने पिता को मरने के लिए मजबूर करने का बयान दर्ज कराया।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sunita sarangal

Related News

Recommended News