सबसे पहले अमरिंदर सिंह पर दर्ज हो कत्ल के मामले: भगवंत मान

8/7/2020 2:19:45 PM

पटियाला (परमीत): आम आदमी पार्टी पंजाब के प्रधान और पार्लियामेंट मैंबर भगवंत मान ने मांग की है कि तीन जिलों में ज़हरीली शराब के साथ हुआ लगभग सवा 100 मौतों के मामलो में सबसे पहले मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह पर कत्ल के मामले दर्ज होने  चाहिए क्योंकि बतौर मुख्यमंत्री आबकारी और गृह मंत्री 'राजा' ही इस संगठनात्मक अपराध के लिए सबसे बड़ा आरोपी साबित हो रहा है, फिर कत्ल केस दर्ज करने की शुरुआत अमरिंदर सिंह से क्यों नहीं होनी चाहिए? गुरूवार को पटियाला में आकर प्रैस कान्फ्रेंस के द्वारा भगवंत मान ने मुख्यमंत्री और कांग्रेसी मंत्री-विधायकों पर हमला बोला। उन्होंने कहा इसके साथ ही भगवंत मान ने ऐलान किया कि आज के बाद उनकी पार्टी मुख्यमंत्री को 'कैप्टन' कह कर संबोधित नहीं होगी। मान मुताबिक 'भारतीय फ़ौज से ले कर ग्रामीण -शहरी समाज और संस्कृति में कैप्टन (कप्तान) एक बेहद सम्मानजनक शब्द है, परन्तु अमरिंदर सिंह इस सच्चे -शुद्ध शब्द की लाज रखने में बुरी तरह फ्लॉप हुए हैं।

भगवंत मान ने कहा कि हम पहले दिन से मांग करते आ रहे हैं कि ज़हरीली शराब के मामले में कत्ल के मामले दर्ज किये जाए। यह पिछले 15 सालों से चला आ रहा आरगेनाईज़ड (संगठनात्मक) माफिया है। बादलों के राज में मुख्य बागडोर अकाली -भाजपा विधायकों के द्वारा बादल के पास थी, अब कांग्रेसी विधायकों -मंत्री के द्वारा राजे के पास है। 

उन्होंने कहा अमृतसर, तरनतारन और बटाला (गुरदासपुर) में फैले ज़हरीले शराब की तारें राजपुरा, घनौर और खन्ना की अवैध शराब फ़ैक्टरियों के साथ जुड़ना साबित करता है कि राजे और रानी के करीबी इस मौत के धंधो में कितना गहरे उतरे हुए हैं। इसलिए आम आदमी पार्टी इस पूरे मामले की हाईकोर्ट से जांच की मांग करती है। 


Edited By

Tania pathak

Related News