Sidhu Moosewala Murder: गैंगस्टर लॉरेंस से लगातार सम्पर्क में था गोल्डी बराड़, पाकिस्तान से मंगवाए  इतने हथियार

punjabkesari.in Thursday, Jun 16, 2022 - 03:45 PM (IST)

चंडीगढ़:  पंजाबी  सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्याकांड को लेकर दिन प्रतिदिन नए खुलासे हो रहे हैं और इस मामले की जांच लगातार जारी है। गत दिवस सिद्धू मूसेवाले हत्याकांड मामले में गैंगस्टर लॉरैंस बिश्नोई को पंजाब पुलिस दिल्ली की तिहाड़ से लेकर आए। पंजाब का बड़ा ड्रग माफिया जग्गू भगवान पुरिया भी तिहाड़ जेल में बिश्नोई के साथ बंद था। इन दोनों को लगातार कनाडा में बैठे गोल्डी का फोन आता था, बाद में जग्गू और बिश्नोई को अलग -अलग जेल नंबर में बंद कर दिया गया। जग्गू भगवान पुरिया ने ही यह खुलासा किया है कि गोल्डी ने एक बार पाकिस्तान से उससे 50 पिस्टल मंगवाए थे जो शूटरों में बांटने थी लेकिन पुलिस ने पकड़ लिए थे। गोल्डी ही हथियारों की सप्लाई करवाता है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार लॉरैंस इस बात पर अड़ा है कि उसने मूसेवाला की हत्या नहीं करवाई । लॉरेस ने कहा कि उसने मूसेवाला की हत्या का ऑडर नहीं दिया लेकिन उसमे माना की कनाडा में रहकर गैंग ऑपरेट कर रहे गोल्डी बराड़ से उसकी बातचीत होती थी।  मोहाली में विक्की मिड्डूखेड़ा की हत्या के बाद पूरा ग्रुप सिद्धू मूसेवाला के एंटी हो गया था। मूसेवाला ने मिड्डूखेड़ा की रेकी करवाने वाले मैनेजर शगनप्रीत को न सिर्फ विदेश भगाया, उसे काफी पैसा भी दिया था। यहीं कारण था कि उसका ग्रुप मूसेवाला के खिलाफ था। 

जानकारी के अनुसार  लॉरेंस बिश्ननोई तिहाड़ जेल से लगातार फोन का इस्तेमाल करत था। जेल से फोन की जरिए वह गोल्डी से बात करता था कि किसको धमकी देनी है, किससे फिरौती लेनी है और किस पर गोली चलवानी है। लॉरेंस जेल से ही फोन पर तय करता था। लॉरेंस ने जेल में बैठ सिद्धू मूसेवाला ऐसी प्लानिंग से हत्या करवाई है  जो किसी फिल्मी स्क्रिप्ट से कम नहीं है। लॉरेंस ने गोल्डी  बराड़ की मदद से ही अपने भाई अनमोल को भारत से यूरोप में शिफ्ट कवराया था। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kamini

Related News

Recommended News