नशों के खिलाफ पंजाब, हिमाचल, हरियाणा की सरकारें मिलकर काम करें: जयराम ठाकुर

11/11/2019 10:45:29 AM

जालन्धर(सुनील धवन/जतिन्द्र चोपड़ा ):हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने आतंकवाद की समाप्ति के बाद अब नशों के बढ़ रहे प्रचलन को सबसे बड़ा खतरा बताते हुए कहा है कि नशों पर रोक लगाने के लिए जनता को अपना सहयोग देना होगा तथा नशों को खत्म करने के लिए अभियान को प्रत्येक व्यक्ति को अपने घर से शुरू करना होगा। समारोह की अध्यक्षता केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने की।  

मुख्यमंत्री रविवार को पंजाब केसरी पत्र समूह द्वारा आयोजित 116वें शहीद परिवार फंड समारोह को मुख्यातिथि पद से संबोधित कर रहे थे। शहीद परिवार फंड समारोह में आतंकवाद से पीड़ित 156 लोगों व उनके आश्रितों में 78 लाख रुपए की वित्तीय सहायता वितरित की गई। इस अवसर पर पुलवामा में हुए आतंकी हमले में मारे गए सी.आर.पी.एफ. के 44 जवानों के परिजनों को एक-एक लाख रुपए की वित्तीय सहायता दी गई। इस तरह पुलवामा पीड़ितों में भी 44 लाख रुपए की राशि वितरित की गई। यह राशि भी शहीद परिवार फंड में से दी गई है।  

PunjabKesari

अमृतसर में पिछले वर्ष दशहरे के दिन हुए रेल हादसे के पीड़ित परिवारों में भी 6.80 लाख रुपए की वित्तीय सहायता का वितरण किया गया। मृतकों के परिजनों को 20-20 हजार रुपए तथा घायलों को 10-10 हजार रुपए की राशि दी गई। यह राशि पंजाब केसरी समूह द्वारा लाला जगत नारायण शान्ति देवी ट्रस्ट से दी गई।इस अवसर पर प्रत्येक पीड़ित परिवार को एफ.डी.आर. के अलावा 4-4 कम्बल, 1 बर्तन का सैट, 2 लेडीज सूट, 2 कपड़े के पीस, एक तौलिया, एक पंखा, 5 किलो चावल तथा 10 किलो आटा भी दिया गया। जयराम ठाकुर ने कहा कि नशों का प्रचलन तेजी से बढ़ रहा है। 

इस पर रोक लगाने को लेकर हिमाचल सरकार ने भी अपनी तरफ से पहल की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल में पिछले दिनों नशों के कारण हुई मौतों के बाद उन्होंने जो रिपोर्ट मंगवाई थी उसमें खुलासा हुआ था कि संबंधित सभी लोग पंजाब से संबंध रखते थे, जिसके बाद उन्होंने पंजाब, हरियाणा तथा उत्तराखंड के मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत की। जयराम ने कहा कि नशों पर रोक लगाने के लिए हिमाचल, पंजाब तथा हरियाणा तीनों सरकारों को मिलकर काम करने की जरूरत है। 

PunjabKesari

जयराम ठाकुर ने कहा कि न केवल तीनों सरकारों की जिम्मेदारी नशों पर रोक लगाने के मामलों को लेकर बढ़ चुकी है बल्कि इसके साथ ही जनता की जिम्मेदारी भी बढ़ी है। पहले आतंकवाद पर जनता के सहयोग से काबू पाया गया था तथा अब बढ़ते नशों पर रोक लगाने के लिए जन सहयोग की जरूरत है। जनता के सहयोग से ही देश ने आजादी हासिल की, साक्षरता व स्वच्छता अभियान को सफल बनाया। अब एक जन अभियान नशों को लेकर छेडऩे की जरूरत है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि नशों पर रोक लगाने के मामलों को लेकर पंजाब तथा हरियाणा सरकारों के साथ बैठक हो चुकी है जिसमें सभी सहयोगी सरकारों ने अपनी ओर से हरसंभव सहयोग देने का वायदा किया। उन्होंने पंजाब में आतंकवाद की चर्चा करते हुए कहा कि जब बुरा दौर चल रहा था तो उस समय वह अक्सर सुना करते थे कि आतंकी बेगुनाह लोगों का कत्लेआम कर रहे हैं।      

PunjabKesari
नशों की समस्या पर खुली रहें आंखें : अनुराग ठाकुर
केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने समारोह की अध्यक्षता करते हुए कहा कि नशों की समस्या केवल पंजाब से जुड़ी हुई नहीं है बल्कि हिमाचल में भी नशे अपने पांव पसार रहे हैं इसलिए नशों की समस्या को लेकर हमें अपनी आंखें खुली रखनी होंगी। उन्होंने कहा कि सभी संबंधित राज्य सरकारों को नशों के खिलाफ मिलकर अभियान चलाना होगा। अनुराग ठाकुर ने कहा कि 9 नवम्बर का दिन देश के इतिहास के लिए काफी ऐतिहासिक रहा। इस दिन जहां श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर को खोला गया है वहीं दूसरी ओर अयोध्या के मामले में सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला आया जिससे भारत की नींव और मजबूत हो गई है। उन्होंने कहा कि खुशी की बात है कि अयोध्या संबंधी सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद सभी राजनीतिक दलों ने इस फैसले का स्वागत किया है। इससे देश और मजबूत होकर उभरेगा तथा भारत में गड़बड़ करवाने के स्वप्र देखने वाले पड़ोसी देशों को भी यह अहसास होगा कि अहम मसलों में पूरा देश एकजुट है। 

अनुराग ने कहा कि हमें पुलवामा में मारे गए जवानों के परिजनों के साथ सहानुभूति है तथा इन शहीद परिवारों को पूरा राष्ट्र नमन करता है। उन्होंने कहा कि खुशी की बात है कि आज महेन्द्र सिंह धोनी, विराट कोहली जैसे क्रिकेटर भी अपनी मेहनत की कमाई में से कुछ हिस्सा शहीद जवानों के परिजनों की भलाई के लिए दे रहे हैं। अनुराग ने कहा कि आयकर विभाग को जहां अपनी सामाजिक जिम्मेदारियों का निवर्हन करना है वहीं वह चाहते हैं कि प्रत्येक व्यक्ति अपनी सामाजिक जिम्मेदारी को निभाए। केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री ने कहा कि उन्होंने अपने हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में सामाजिक उत्तरदायित्व को निभाते हुए डेढ़ वर्षों में 19 मोबाइल मैडीकल यूनिट पूरे क्षेत्र में भेजे हैं जिसने लगभग 1.65 लाख लोगों के स्वास्थ्य की जांच की तथा उन्हें मुफ्त दवाइयां वितरित कीं। इस तरह लगभग 10 करोड़ रुपए गरीब जनता के बचाए गए हैं। इस कार्य में अगर कैंसर की रोकथाम करने वाली संस्था भी जुड़ती है तो गरीब जनता का और भला हो सकेगा।

PunjabKesari

अनुराग ठाकुर ने कहा कि उन्होंने अपने हमीरपुर क्षेत्र में खेल महाकुंभ का आयोजन किया था जिसमें लगभग 42,700 खिलाडियों ने भाग लेते हुए नशा न करने का प्रण लिया। उन्होंने धारा 370 को कश्मीर में खत्म करने का हवाला देते हुए कहा कि अब कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक पूरा राष्ट्र एक ही झंडे के नीचे आ गया है। अनुराग ने कहा कि कश्मीर को लेकर जब संघर्ष हुआ था तो उन्होंने भी अपनी गिरफ्तारी दी थी। अब देश विकास व समृद्धि के रास्ते पर आगे बढ़ेगा तथा प्रदूषण की रोकथाम के लिए भी केंद्र सरकार पंजाब को अपनी ओर से पूरी वित्तीय सहायता देगी। केंद्र सरकार चाहती है कि किसान पराली न जलाएं तथा अपने वातावरण को बचाकर रखा जाए। उन्होंने लोगों को अधिक से अधिक आयकर का भुगतान करने की प्रेरणा देते हुए कहा कि इससे ही हम राष्ट्र को सुरक्षित बनाने के लिए नए हथियार, नए विमान व गोला-बारूद खरीदने में सक्षम हो सकेंगे।

आतंकवाद केवल पंजाब में ही खत्म हुआ : सोम प्रकाश

केंद्रीय उद्योग व वाणिज्य राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने कहा कि देश इस बात का गवाह है कि आतंकवाद को खत्म करने में केवल पंजाब में ही सफलता हासिल हुई। उन्होंने कहा कि जब राज्य में बुरे दिन चल रहे थे तो उस समय वह जालंधर में डिप्टी कमिश्रर के पद पर विराजमान थे। उन्होंने उस समय आतंकवाद को खत्म करने में तत्कालीन सरकार के साथ मिलकर अपना योगदान डाला था। 
 सोम प्रकाश ने कहा कि पंजाब पुलिस तथा सुरक्षा बलों ने अपनी कुर्बानियां देते हुए आतंकवाद पर काबू पाने में अनथक सहयोग दिया। केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि कश्मीर में चाहे अभी आतंकवाद जारी है परन्तु अभी भी भारत सरकार आतंकवाद पर काबू पाने के लिए लगातार प्रयत्नशील है। उन्होंने कहा कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है तथा आगे भी रहेगा। अब पूरे देश में एक ही संविधान व विधान लागू हो गया है। राम मंदिर को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाया है तथा सच्चाई की अंतत: जीत हुई है। अब माननीय उच्चतम न्यायालय के फैसले को देखते हुए देश में आपसी सहनशीलता व एकता को बनाकर रखने की जरूरत है।

PunjabKesari

सोम प्रकाश ने कहा कि उन्हें याद है कि जब पंजाब केसरी समूह की बिजली बंद कर दी गई थी उसके बावजूद अखबार को लगातार निकाला जाता रहा। उन्होंने कहा कि अमर शहीद लाला जगत नारायण व रमेश चंद्र जी की कुर्बानी को देश कभी भी भूल नहीं पाएगा जिन्होंने देश की एकता व अखंडता की खातिर अपनी कुर्बानियां दीं। उनके बाद से लगातार पत्र समूह द्वारा आतंकवाद से प्रभावित परिवारों व उनके आश्रितों को वित्तीय सहायता देने का कार्य चल रहा है। केवल पंजाब ही नहीं बल्कि जम्मू-कश्मीर व अन्य राज्यों के आतंकवाद से प्रभावित परिवारों को भी वित्तीय सहायता का वितरण किया गया।


swetha

Related News