मजीठिया को जेल भेजने पर बोले गृह मंत्री सुखजिन्दर रंधावा

punjabkesari.in Friday, Feb 25, 2022 - 10:29 AM (IST)

जालंधर (धवन): मोहाली की अदालत की तरफ से अकाली नेता बिक्रम सिंह मजीठिया को जेल भेजने के बाद पंजाब के गृह मंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा ने ट्वीट किया है। ट्वीट में उन्होंने कहा कि ‘परमात्मा के घर देर है अंधेर नहीं।’ विधान सभा मतदान से पहले बिक्रम मजीठिया खिलाफ पंजाब पुलिस ने केस दर्ज किया था। मजीठिया की तरफ से इसलिए पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, पंजाब कांग्रेस कमेटी के प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू और गृह मंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा को जिम्मेदार ठहराया जा रहा था। 

यह भी पढ़ेंः यूक्रेन में फंसे पंजाबियों के लिए आम आदमी पार्टी ने जारी किया व्हाट्सएप नंबर

PunjabKesari

सुखजिन्दर रंधावा ने कहा कि राज्य पुलिस ने ई.डी. की रिपोर्ट के आधार पर यह केस दर्ज किया है। अब अदालत की तरफ से उनको जेल भेजने के बाद रंधावा ने अब रूप में मजीठिया पर भी तंज कसा है और कहा है कि आखिर ईश्वर ने उनको ठीक जगह भेज दिया है।

यह भी पढ़ेंः महिला चेयरपर्सन मनीषा गुलाटी ने पुलिस वालों को जमकर लगाई फटकार

रंधावा ने अदालत की तरफ से मजीठिया को जेल भेजने के फैसले के बाद टिप्पणी करते कहा है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और ओर विरोधियों ने पंजाब सरकार खिलाफ जो घटिया प्रचार किया था कि सरकार ने कमजोर एफ.आई.आर. दर्ज की है, वह गलत साबित हुई है। रंधावा ने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से दर्ज की गई  एफ.आई.आर. पर अदालत ने कोई उलट टिप्पणी नहीं की। उन्होंने कहा कि कानून अनुसार ही मजीठिया खिलाफ एफ.आई.आर. दर्ज हुई थी।

यह भी पढ़ेंः ड्रग मामले में अकाली नेता बिक्रम मजीठिया को इस जेल में किया शिफ्ट

उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन के कार्यकाल में पुलिस आधिकारियों पर कोई कार्यवाही न करने का दबाव था इसलिए आज विधान सभा मतदान में कैप्टन की पार्टी की दुर्दशा साफ दिखाई दे रही है। रंधावा ने कहा कि जब कैप्टन ने श्री दमदमा साहिब में नशे को खत्म करने की कसम के ली थी तो उस समय वह भी उनके साथ खड़े थे। जब भी वह कैप्टन अमरिन्दर सिंह को कार्यवाही करने के लिए कहते थे तो यह जवाब मिलता था कि क्या वह मजीठिया को अंदर भेज दें। आज शायद कैप्टन को अपनी गलती का एहसास हो रहा होगा। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News