मैंने कभी भी दरबार साहिब पर फौजी कार्रवाई का स्वागत नहीं किया : बीर दविन्दर

punjabkesari.in Sunday, Jan 05, 2020 - 10:16 AM (IST)

पटियाला(जोसन): पूर्व डिप्टी स्पीकर बीर दविन्दर सिंह ने दावा किया है कि उन्होंने कभी भी श्री दरबार साहिब पर फौजी कार्रवाई का स्वागत नहीं किया और उनके खिलाफ शिरोमणि कमेटी के कुछ सदस्यों की तरफ से दिया गया बयान पूरे झूठ की गठरी है।

उन्होंने कहा कि यह ठीक है कि मैं 1980 से 1985 तक विधानसभा हलका सरहिन्द से कांग्रेस पार्टी की तरफ से विधायक चुना गया था और उसके बाद भी विधानसभा हलका खरड़ से कांग्रेस पार्टी की तरफ से विधायक चुना गया था परन्तु इन सदस्यों को यह पता होना चाहिए कि जिस अकाली नेता के कहने से उन्होंने मेरे विरुद्ध बयान दिया है वह नेता कांग्रेस पार्टी से हर महीने की पहली तारीख को बादलों विरुद्ध बयान देने के लिए 10 लाख रुपए प्रति महीना कांग्रेस पार्टी से लेता रहा है। उन्होंने कहा कि एक बार तो यह भुगतान मेरे बैठे ही कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने दिल्ली के पांच सितारा होटल में मंगवा कर दिए थे। मैंने न तो कभी कामरेड बनकर नास्तिकता का प्रचार किया है और न ही कभी मार्क्सवाद का प्रचार करने के लिए ‘धर्म’ को अफीम से तुलना देने के लिए लाल-बुझक्कड़ बना हूं। उन्होंने कहा कि वह तीनों ही सदस्यों को कानूनी नोटिस भेज रहा है कि या तो वह उपरोक्त बयान के पक्ष में सबूत पेश करें नहीं तो कानूनी खमियाजा भुगतने के लिए तैयार रहें। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Edited By

Sunita sarangal

Related News

Recommended News