''पंजाब केसरी'' की खबर का असर, सतलुज दरिया में चल रही गैर कानूनी माइनिंग बंद

punjabkesari.in Wednesday, May 04, 2022 - 10:35 AM (IST)

रूपनगर (विजय): रूपनगर में सतलुज दरिया में चल रही गैर कानूनी माइनिंग आज ‘पंजाब केसरी’ में खबर प्रकाशित होने के बाद एकदम बंद हो गई। सड़क पर कोई भी ट्रक व टिप्पर नजर नहीं आया। दरिया में कोई व्यक्ति काम नहीं कर रहा था। माइनिंग विभाग के जे.ई. सुशांत कालिया ने कहा कि दरिया में पानी बढ़ चुका है जिस कारण माइनिंग बंद है। माइनिंग कामगारों का कहना था कि भार तोलने वाला कांटा खराब हो गया है जिस कारण माइनिंग बंद हो गई है परंतु असल बात कोई भी बताने को तैयार नहीं। हैरानी की बात यह है कि जिला प्रशासन की तरफ से भी कोई कार्रवाई नहीं देखी गई। पंजाब के माइनिंग मंत्री भी इसी जिले के साथ संबंधित है परंतु माइनिंग को समय से पहले रोका नहीं जा सका।

‘पंजाब केसरी’ में खबर प्रकाशित होने के बाद माइनिंग माफिया को गैर कानूनी माइनिंग का काम छोड़ कर भागना पड़ा। पंजाब केसरी की टीम ने आज दोबारा मौके का निरीक्षण किया तो पता लगा कि माइनिंग माफिया ने दरिया में पत्थर डाल कर ट्रकों के निकलने के लिए कच्ची सड़कें भी बनाई हुई हैं जिसको किसी भी अधिकारी ने रोकने की कोशिश नहीं की।

सूत्रों का कहना है कि चाहे पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार है परंतु माइनिंग में अभी भी कुछ कांग्रेसी नेता सक्रिय हैं और ‘आप’ नेता माइनिंग माफिया के विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं कर रहे। चर्चा चल रही है कि गैर कानूनी माइनिंग के गोरखधंधे का जी.एस.टी. और इंकम टैक्स का हिसाब-किताब किसके पास है? यदि नहीं तो यह लाखों रुपए का चूना सरकार और विभाग को ही लग रहा है।

विभाग ने दरिया में पानी नहीं छोड़ा: एक्सीयन
जब इस संबंध में सिंचाई विभाग के एक्सीयन गुरप्रीत सिंह के साथ बात की गई तो उन्होंने कहा कि विभाग की तरफ से दरिया में कोई पानी नहीं छोड़ा गया। इसी तरह मौके पर भार तोलने वाले कांटे को देखा गया तो वह बिल्कुल ठीक काम कर रहा था और ट्रक व टिप्पर इसके नजदीक घूम रहे थे लेकिन उनका भार चैक नहीं हो रहा था। माइनिंग मंत्री हरजोत सिंह बैंस इस जिले के साथ संबंधित हैं। जब उनको मोबाइल पर कई बार संपर्क करने की कोशिश की गई तो उन्होंने फोन नहीं उठाया। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kalash

Related News

Recommended News