पंजाब में हो रही परीक्षाओं में प्रश्नपत्रों की लीकेज लगातार जारी

9/14/2021 9:21:23 PM

मोहाली (नियामियां): नकल विरोधी अध्यापक फ्रंट ने पंजाब के मुख्यमंत्री व प्रमुख सचिव शिक्षा को पत्र लिख कर इस बात पर गहरी चिंता व्यक्त की है कि पंजाब में हो रहे विद्यार्थियों के सितम्बर मिड डे 2021 के प्रश्नपत्रों के लीक होने का सिलसिला अभी भी लगातार जारी है। नकल विरोधी अध्यापक फ्रंट के अध्यक्ष सुखदर्शन सिंह ने मुख्यमंत्री को लिखे अपने पत्र में कहा कि छठी से बारहवीं कक्षा तक के प्रश्नपत्र लीक होने के बारे में उन्होंने शिक्षा सचिव को भी एक दिन पहले पत्र लिखा था परन्तु उन्होंने इस पर कोई कार्रवाई नहीं की। इसके बावजूद अभी भी प्रश्न पत्र पहले की तरह लीक हो रहे हैं और हल किए हुए प्रश्नपत्र यूटयूब तथा सोशल मीडिया पर वायरल किए जा रहे हैं। इस तरह की घटनाओं से विद्यार्थियों का भविष्य लगातार अंधकार की ओर चला जाएगा। 

उन्होंने कहा है कि आज से शुरू हो रहे छठी से बारहवीं कक्षा के प्रश्न पत्र भी सुबह से ही यू टयूब चैनलों पर वायरल किए जा रहे हैं। उन्होंने तो यहां तक भी कहा है कि 17 सितम्बर को होने वाले पेपर भी लीक हो गए हैं जोकि सोशल मीडिया पर उपलब्ध है। उन्होंने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है के विद्यार्थियों के खराब हो रहे भविष्य को ध्यान में रखते हुए इस संबंध में तुरन्त कोई सख्त कार्रवाई की जाए। सुखदर्शन सिंह ने इस बात पर भी चिंता व्यक्त की है कि  विद्यार्थियों की परीक्षाएं इस तरह आयोजित की जा रही है जिससे उनका भविष्य पूरी तरह से तबाह हो रहा है। 


उन्होंने इस बात पर भी ऐतराज जताया कि  परीक्षाओं में ऑब्जेक्टिव टाइप सवाल पूछे जाते हैं तथा विद्यार्थी को परीक्षा में कुछ भी नहीं लिखना पड़ता। इस तरह से विद्यार्थी 5 या 10 मिनट में प्रश्नपत्र हल करके परीक्षा केंद्र से बाहर आ जाते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसा तो बड़ी कम्पीटिशन की परीक्षाओं में भी नहीं होता। वहां भी आब्जेक्टिव टाइप प्रश्न के साथ साथ विस्तृत प्रश्न भी होते हैं। उन्होंने भी लोगों को इस मामले में एकजुट होने का आग्रह किया है ताकि अपने बच्चों का भविष्य बचाया जा सके।

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Subhash Kapoor

Recommended News

static