भगवंत मान की धूरी से चुनाव लड़ने की संभावना, लोगों ने की ऐसी चर्चाएं

10/16/2021 12:19:46 PM

धूरी (अश्विनी): आम आदमी पार्टी के संसद मैंबर भगवंत मान की तरफ से 2022 की चयन में धूरी हलके से चुनाव लड़ने की संभावना ने लोगों में एक नई चर्चा छेड़ दी है। शहर के बुद्धिजीवी वर्ग के वोटरों और व्यापारी नेताओं का कहना है कि लोगों की वोटें लेकर जीतने उपरांत करीब 8 वर्ष से भगवंत मान की गैर-हाजिरी हलके के लोगों को चुभ रही है और लोगों के दुख-सुख में से गैर-उपस्थित रहने वाला यह आम आदमी अब कौन-से मुंह के साथ लोगों से वोटें मांगेगा। लोगों में इस बात की चर्चा भी है कि अपने आपको मुख्यमंत्री के पद का दावेदार कहलाने वाला व्यक्ति संगरूर सीट से चयन लड़ने के लिए पक्ष क्यों मार्ग रहा है।

यह भी पता लगा है कि अकाली दल (ब) की तरफ से संगरूर से एक बड़े चेहरे को चयन लड़ाए जाने की चर्चा और वहां से मुकाबला तिकोना होने के डर से भगवंत मान हलका धुरी को सेफ सीट मानते हुए यहां से तैयारी में लग गए हैं और आजकल अपने घर गांवों के मोहतबर लोगों को बुला कर उनको ग्रांटें आदि भी दे रहा है, जबकि यदि भगवंत मान की पिछले 8 वर्ष की कारगुजारी पर निगाह मारें तो धूरी शहर के विकास के लिए भगवंत मान की तरफ से कोई बड़ी अनुदान नहीं दी गई। यहां यह भी वर्णनयोग्य है कि आम आदमी पार्टी की हाईकमान के दिशा-निर्देशों के अंतर्गत पिछले करीब 5 वर्षों से हलके के कई लोकल सीनियर नेता जो कि अपने आपको संभावी उम्मीदवार समझते हुए लोगों के दुख-सुख में विचरते आ रहे थे, की आशाओं पर भी पानी फिरता नजर आ रहा है।

नेताओं में डा. अनवर भसौड़, राजवंत सिंह घुल्ली, एस.एस. चट्ठा, जस्सी सेखों, पन्नू कातरों, अमरदीप सिंह धांदरा और मरहूम संदीप सिंगला का भाई शाम सिंगला आदि का नाम आता है और इन नेताओं की तरफ से शहर में लाखों रुपए की फलैक्सें लगवा कर पार्टी का प्रचार किया जा रहा है। लोगों में यह भी चर्चा सुनने को मिल रही है कि यदि भगवंत मान को एम.पी. जिताने के बाद उसके दर्शन भी नहीं हुए तो धूरी से विधायक जीतने उपरांत यदि वह अपनी इच्छा मुताबिक मुख्यमंत्री के पद पर जा विराजे तो उसके दर्शन केवल तस्वीरों में ही किए जा सकेंगे। लोगों का यह भी कहना है कि राजनीतिक पार्टियों को ऐसे फैसले लेने से पहले हलके के लोगों से सलाह जरूर ले लेनी चाहिए। 

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sunita sarangal

Related News

Recommended News