By Election Result: पंजाब में 3 सीट पर कांग्रेस का कब्जा, SAD को 1, BJP का नहीं खुला खाता

10/24/2019 4:11:25 PM

चंडीगढ़: पंजाब के 4 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव की मतगणना के बाद परिणाम घोषित कर दिए गए हैं। कांग्रेस ने शिरामणि अकाली दल और उसके सहयोगी दल भाजपा को तीन सीटों पर शिकस्त दी है। कांग्रेस ने फगवाड़ा, मुकेरियां और जलालाबाद विधानसभा क्षेत्रों में अपना परचम लहराया है। जबकि शिरोमणि अकाली दल को दाखा हल्के में ही जीत हासित हुई है। फगवाड़ा विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस के उम्मीदवार बलविंद्र सिंह धालीवाल ने अपने प्रतिद्वंदी राकेश बघा को 26116 मतों से परास्त किया है। मुकेरियां में कांग्रेस की प्रत्याशी इंदूबाला ने अपने निकटम उम्मीदवार जंगी लाल महाजन को 3440 वोटों से हराया है। इसी तरह कांग्रेस के उम्मीदवार रमिंदर  सिंह आंवला ने शिरोमणि अकाली दल के राज सिंह को 16633 वोटों से पटखनी दी है। दाखा विधानसभा हलके से शिरोमणि अकाली दल के उम्मीदवार मनप्रीत सिंह अय्याली ने कांग्रेस के प्रत्याशी संदीप सिंह संधू को 14672 वोटो से मात दी है।

PunjabKesari

 किस को कितने वोट मिले

PunjabKesari

 

PunjabKesari

 

PunjabKesari

 

PunjabKesari

 

किसको कितने फीसदी वोट

PunjabKesari

बता दें कि फगवाड़ा, मुकेरियां, दाखा, जलालाबाद चारों विधानसभा में कुल 66.50 फीसदी मतदान हुआ। चारों सीटों पर कुल सात लाख 60 हजार से अधिक मतदाता कुल 33 उम्मीदवारों के राजनीतिक भाग्य का फैसला आज होगा। फगवाड़ा में 55.97 फीसदी, मुकेरियां में 58.62 फीसदी, दाखा में 71.64 फीसदी और जलालाबाद में 75.46 फीसदी मतदान हुआ।इस उपचुनाव में कांग्रेस की प्रतिष्ठा दांव पर है जिसके लिये उसने पूरा जोर लगा दिया। वरिष्ठ अधिवक्ता एवं आम आदमी पार्टी के नेता एचएस फूलका ने पिछले विधानसभा चुनाव में दाखा सीट जीती थी लेकिन श्री फूलका के विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने के कारण यह सीट रिक्त हो गयी जिस पर इस चुुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार एवं मुख्यमंंत्री के सलाहकार कैप्टन संदीप संधू का मुकाबला अकाली दल के पूर्व विधायक मनप्रीत अयाली से है। 

 

PunjabKesari


भाजपा नेता सोमप्रकाश के इस्तीफे के कारण रिक्त हुई फगवाडा सीट पर मुख्य मुकाबला भाजपा के राजेश बग्गा तथा कांर्ग्रेस के बलविंदर धालीवाल के बीच है। सोमप्रकाश के सांसद चुने जाने के बाद यह सीट खाली हुई। यह सीट सुरक्षित होने के कारण इस पर बसपा ने भी अपना प्रत्याशी खड़ा किया है लेकिन मुख्य टक्कर भाजपा तथा कांग्रेस के बीच है। मुकेरियां सीट कांग्रेस विधायक रजनीश कुमार बब्बी की मृत्यु के बाद रिक्त हुई। इस बार इस सीट पर कांग्रेस ने उनकी विधवा इंदू बाला को टिकट दिया तथा भाजपा ने जंगी लाल महाजन को मैदान में उतारा। इसी सीट से 2012 में चुनाव जीते भाजपा के पूर्व विधायक अरूण शाकर टिकट न मिलने से नाराज होकर निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव मैदान में हैं। चौथी सीट जलालाबाद है जहां से सुखबीर बादल विधायक थे लेकिन लोकसभा चुनाव जीतने के कारण यह सीट रिक्त हुई। अकाली दल के डा0 राज सिंह डिब्बीपुर तथा कांग्रेस के रमिंदर आंवला के बीच सीधी टक्कर है। आप ने भी मोहिंदर सिंह को उतारा है। 

 


Vatika

Related News