पंजाब सरकार ने स्कूली विद्यार्थियों के लिए लिया एक और अहम फैसला

9/22/2020 10:15:21 AM

चंडीगढ़/जालंधर(रमनजीत, धवन): पंजाब सरकार ने स्कूली विद्यार्थियों के लिए शारीरिक शिक्षा के साथ संबंधित क्रियाएं जरूरी करने का फैसला किया है। यह निर्णय कोविड-19 के बाद स्कूल खुलने पर लागू होगा। 

शिक्षा मंत्री विजय इंद्र सिंगला की हरी झंडी के बाद डायरैक्टर एस.सी.ई.आर.टी. ने जिला शिक्षा अधिकारियों और स्कूल मुखियों को पत्र जारी कर दिया है। प्रवक्ता के अनुसार पहली से 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए शारीरिक क्रियाओं के लिए अलग-अलग खेल शामिल किए गए हैं। इसके साथ विद्यार्थियों का ‘खेलो पंजाब, बढ़ो पंजाब’ अधीन मुकम्मल जांच मूल्यांकन का टैस्ट लिया जाएगा।

प्रवक्ता के अनुसार विद्यार्थियों के लिए शारीरिक क्रियाएं शुरू करने का उद्देश्य छिपी प्रतिभा को पहचानना, समग्र विकास और सही दिशा प्रदान करना है। इसका मकसद प्रतिभाशाली खिलाडिय़ों का चयन कर खेल संबंधी उच्च स्तरीय मंच प्रदान करना भी है। इन शारीरिक क्रियाओं के साथ विद्यार्थी शारीरिक तौर पर तंदुरुस्त होने के साथ-साथ लचीलापन बढ़ेगा और मांसपेशियां मजबूत होंगी। इससे विद्यार्थियों में सहनशीलता, एकाग्रता और पढ़ाई के प्रति रुचि बढ़ेगी और शारीरिक संतुलन पैदा होने के अलावा उनमें नेतृत्व की भावना पैदा होगी।


Sunita sarangal

Related News