स्कॉलरशिप घोटाला: कैप्टन की रिहायश के समक्ष AAP का धरना-प्रदर्शन; कई नेता हिरासत में

6/15/2021 10:57:17 AM

चंडीगढ़(रमनजीत): कांग्रेस सरकार द्वारा दलित वर्ग के विद्यार्थियों की पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप (वजीफा) में घोटाले का आरोप लगाते हुए आम आदमी पार्टी (आप) द्वारा मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह के सरकारी आवास के समक्ष धरना प्रदर्शन किया गया।

‘आप’ विधायक दल के नेता हरपाल सिंह चीमा के नेतृत्व में मुख्यमंत्री आवास के समक्ष पहुंचे वर्करों के साथ-साथ उप नेता विपक्ष सरबजीत कौर माणूके, मास्टर बलदेव सिंह जैतो, प्रिंसीपल बुद्ध राम, जगतार सिंह जग्गा हिस्सोवाल, मनजीत सिंह बिलासपुर, कुलवंत सिंह पंडोरी (सभी विधायक) व हलका पायल के इंचार्ज मनविन्द्र सिंह ग्यासपुरा ने नारेबाजी की। चंडीगढ़ पुलिस ने ‘आप’ विधायकों और नेताओं को हिरासत में लेकर सैक्टर-17 के थाने में भेज दिया। पुलिस द्वारा हिरासत में लिए ‘आप’ नेता मनविन्दर सिंह ग्यासपुरा ने भूख हड़ताल शुरू करने का ऐलान कर दिया।

हरपाल चीमा ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने दलित वर्ग के 2 लाख विद्यार्थियों की वजीफा राशि में करोड़ों रुपए का घोटाला कर विद्यार्थियों के भविष्य से खिलवाड़ किया है।उन्होंने कहा कि सरकार के संरक्षण में पुलिस ने उनका रोष प्रदर्शन करने का संवैधानिक हक छीना है, परन्तु आम आदमी पार्टी अपना संघर्ष जारी रखेगी और ‘आप’ वर्करों द्वारा 15 जून को पंजाब के सभी जिलों में डिप्टी कमिश्नरों के दफ्तरों के समक्ष भूख हड़ताल की जाएगी। चीमा ने कहा कि जब तक वित्तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल और समाज भलाई मंत्री साधु सिंह धर्मसोत के खिलाफ एस.सी./एस.टी. एक्ट के अधीन केस दर्ज नहीं किया जाता, तब तक ‘आप’ का संघर्ष जारी रहेगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Recommended News

static