सुखबीर बादल ने भाई राजोआना केस को लेकर PM मोदी से की यह अपील

punjabkesari.in Monday, Apr 18, 2022 - 08:01 PM (IST)

चंडीगढ़ : शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हस्तक्षेप करने और भाई बलवंत सिंह राजोआना की जल्द रिहाई सुनिश्चित करने की अपील की ताकि 2019 में गुरु नानक की 550वें प्रकाश पर्व पर 8 बंदी सिंहों को रिहा करने का सरकार का सिख कौम को किया वादा पूरे हो सके। यहां जारी एक बयान में शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष ने इन सभी बंदी सिंहों की रिहाई की मांग की और प्रधानमंत्री से तत्काल हस्तक्षेप करने और सक्षम प्राधिकारी द्वारा भाई राजोआना की मौत की सजा को कम करने का निर्णय लेने की अपील की। केंद्र सरकार ने 2019 में भाई राजोआना की मौत की सजा को मानवीय आधार पर माफ करने की मंजूरी दी थी।

PunjabKesari

सुखबीर बादल ने कहा कि इस मामले में प्रधानमंत्री को तत्काल ध्यान देने की आवश्यकता है क्योंकि संविधान के अनुच्छेद 72 के तहत 25 मार्च 2012 को एस.जी.पी.सी. द्वारा दायर दया याचिका अभी भी राष्ट्रपति के पास लंबित है। उन्होंने कहा कि शीर्ष अदालत ने नोटिस जारी कर केंद्र सरकार से भाई राजोआना की दया याचिका पर 30 अप्रैल तक फैसला लेने को कहा है। प्रधानमंत्री को लिखे एक पत्र में बादल ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि प्रधानमंत्री खुद महसूस करेंगे कि भाई राजोआना को सलाखों के पीछे रखने का कोई मतलब नहीं है, जब केंद्र सरकार ने मौत की सजा को कम कर दिया था। उन्होंने कहा कि सिख कैदी पहले ही 26 साल की सजा काट चुका है, जो उम्र कैद से ज्यादा है।

PunjabKesari

सुखबीर बादल ने प्रधानमंत्री को अवगत कराया कि शिरोमणि अकाली दल पहले ही एक प्रस्ताव पारित कर भाई राजोआना की मौत की सजा को उम्रकैद में बदलने और फिर उनकी रिहाई का अनुरोध करने का प्रस्ताव पारित कर चुका है। उन्होंने कहा कि शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति जो सिख धर्मस्थलों की देखभाल करती है और जिसके सदस्य सीधे सिख संगत द्वारा चुने जाते हैं, ने केंद्र सरकार को इसी तरह की याचिकाएं सौंपी हैं। अकाली दल अध्यक्ष ने यह भी कहा कि पिछली अकाली सरकार ने भाई राजोआना की फांसी के न्यायिक आदेशों का लगातार विरोध किया था और तत्कालीन मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने इन आदेशों का पालन करने से इनकार कर दिया था। उन्होंने कहा कि दुनिया भर के सिख भाई राजोआना को रिहा करना चाहते हैं और वे प्रधानमंत्री की ओर देख रहे हैं कि वे गुरु नानक की 550 वीं जयंती पर सरकार द्वारा सिख समुदाय से किए गए वादे को कब पूरा करेंगे। अकाली दल के अध्यक्ष ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से भी ऐसी ही अपील की।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kamini

Related News

Recommended News