हाईकमान को रिपोर्ट सौंपने के एक दिन बाद सुनील जाखड़ का बड़ा बयान

6/12/2021 11:47:23 AM

चंडीगढ़ (अश्वनी कुमार) : हाईकमान की 3 सदस्यीय कमेटी द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को रिपोर्ट सौंपने के एक दिन बाद पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि अगर उनके हटने से कांग्रेस मजबूत होती है तो उन्हें इससे कोई गुरेज नहीं है।
महंगाई के खिलाफ कुराली में विरोध प्रदर्शन के दौरान जाखड़ ने कहा कि अगर मंथन में विष निकलता है तो वह विष पीने को तैयार हैं। वह कभी भी पार्टी की एकजुटता और मजबूती में रोड़ा नहीं बनेंगे। आज जरूरत इकट्ठे होकर लडऩे की है क्योंकि पंजाब को धर्म, जाति, शहरी, ग्रामीण वर्ग में बांट कर समाज को टुकड़े-टुकड़े करने का प्रयास किया जा रहा है। सभी को इस टुकड़े-टुकड़े गैंग पर नकेल कसनी चाहिए। जाखड़ ने कहा कि कांग्रेस में अगर कोई विरोधाभास है, उसे तय कर लिया जाएगा। कांग्रेस मजबूती से विधानसभा चुनाव लड़ेगी। जनता का आशीर्वाद कांग्रेस के साथ है। 

2022 में कैप्टन का ही हो चेहरासिद्धू को मिले सम्मानजनक ओहदा
हाईकमान को सौंपी गई रिपोर्ट के बाद पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को सम्मानजनक ओहदा देने की चर्चाओं पर जाखड़ ने कहा कि ये महज कयासबाजियां हैं। हालांकि उन्होंने कहा कि सिद्धू को सम्मानजनक ओहदा देने से कभी किसी ने इंकार नहीं किया और इसके लिए किसी कमेटी की जरूरत नहीं है। यह तो पहले दिन से ही कहा जा रहा है कि सिद्धू को सम्मानजनक ओहदा मिले। जाखड़ ने यह भी कहा कि 2022 के विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री अमरेंद्र सिंह का ही चेहरा रहना चाहिए। 

कोविड के बाद अब महंगाई से मारने लगी मोदी सरकार
सुनील जाखड़ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सत्ता का अहंकार देश पर भारी पडऩे लगा है और लाखों लोगों के कोविड-19 से अपनी जान खो देने के बाद भी केंद्र सरकार ने कोई सबक नहीं लिया है व अब डीजल-पैट्रोल की कीमतों में वृद्धि करके लोगों को आॢथक तौर पर मारना शुरू कर दिया है। 

पूर्व मंत्री जगमोहन सिंह कंग सहित प्रदर्शन करते हुए जाखड़ ने कहा कि सत्ता के अहंकार में मोदी सरकार ने देश के आम लोगों को भुला दिया है। उन्होंने कहा कि पहले कोविड-19 के कुप्रबंधन के कारण देश के लाखों परिवारों ने अपने पारिवारिक सदस्यों को खो दिया है और अब महंगाई से देश की सरकार लोगों का हाल बेहाल करने पर तुली हुई है।

केंद्र सरकार पंजाब को आर.डी.एफ.-जी.एस.टी. की अदायगी नहीं कर रही है, जबकि डीजल-पैट्रोल पर टैक्स के रूप में केंद्र सरकार प्रत्येक वर्ष 3 लाख करोड़ एकत्र करती है पर आम लोगों को इसका कोई लाभ नहीं हो रहा है। उन्होंने आम लोगों को केंद्र सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ उठ खड़े होने का आह्वान किया।

पंजाब और अपने शहर की अन्य खबरें पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tania pathak

Recommended News

static