सुर्खियों में पंजाब का ये नशामुक्ति केंद्र, शीशे तोड़कर एक दर्जन मरीज फरार

punjabkesari.in Tuesday, Sep 27, 2022 - 08:34 AM (IST)

बठिंडा: बठिंडा के सिविल अस्पताल में स्थित नशामुक्ति केंद्र एक बार फिर से सुर्खियों में आ गया है। गत रात्रि फिर से नशा छोडऩे के लिए भर्ती हुए करीब एक दर्जन मरीज केंद्र के शीशे तोड़कर फरार हो गए।

इस दौरान नशे की तलब में कुछ मरीजों ने हंगामा भी किया। केंद्र में तैनात निजी सिक्योरिटी गाड्र्स ने उन्हें रोकने की कोशिश की लेकिन फरार होने वालों की संख्या अधिक होने के कारण उन्हें रोका नहीं जा सका। पता चला है कि केंद्र से 14-15 मरीज फरार हुए थे जिनमें से 2 मरीज परिजनों के साथ वापस लौट आए हैं व दोबारा भर्ती करवाए गए हैं। गौरतलब है कि पिछले सप्ताह भी केंद्र के दरवाजे तोड़कर आधा दर्जन मरीज फरार हो गए थे। पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है। सिविल अस्पताल में स्थित उक्त नशामुक्ति केंद्र में 40 के करीब मरीज दाखिल थे। इनमें से पिछले सप्ताह भी 6 मरीज शीशे आदि तोड़कर फरार हो गए थे। गत देर रात्रि फिर से मरीजों ने हंगामा शुरू कर दिया।

डॉक्टरों तथा अन्य स्टाफ ने उन्हें समझाने व रोकने की कोशिश की लेकिन इसके बावजूद वे दरवाजे का शीशा तोड़कर वहां से फरार हो गए। इस बारे में सिविल अस्पताल पुलिस चौकी प्रभारी गुरमीत सिंह ने बताया कि करीब एक दर्जन मरीज जो स्वेच्छा से नशा छोडऩे के लिए भर्ती हुए थे, वे एकजुट होकर केंद्र से फरार हो गए हैं। भागने के लिए उक्त लोगों ने दरवाजों के शीशों को तोड़ दिया। उन्होंने बताया कि इस बारे में सिविल सर्जन व अन्य डाक्टरों के साथ बातचीत की जा रही है व उसके बाद ही अगली कार्रवाई की जाएगी। इधर, अस्पताल में दाखिल कुछ अन्य मरीजों ने बताया कि केंद्र में नशे की तलब के कारण कुछ लोग अक्सर उग्र हो जाते हैं जिन्हें डॉक्टरों व अन्य स्टाफ द्वारा उचित ढंग से संभाला जाता है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Related News

Recommended News