सभी वर्गों का समावेश कर बूथ स्तर तक पार्टी को सुदृढ़ बनाने में जुटें कार्यकत्र्ता: नड्डा

punjabkesari.in Saturday, Jul 25, 2020 - 02:00 PM (IST)

चंडीगढ़(शर्मा): भारतीय जनता पार्टी पंजाब की एक संगठनात्मक वर्चुअल बैठक प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा की अध्यक्षता में हुई, जिसमें दिल्ली से राष्ट्रीय भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा व राष्ट्रीय भाजपा उपाध्यक्ष तथा पंजाब प्रभारी प्रभात झा विशेष रूप से उपस्थित हुए। दोनों ने भाजपा पदाधिकारियों का मार्गदर्शन किया। बैठक में राष्ट्रीय भाजपा उपाध्यक्ष अविनाश राय खन्ना, राष्ट्रीय भाजपा सचिव तरुण चुघ, केंद्रीय कैबिनेट मंत्री सोम प्रकाश, प्रदेश संगठन महामंत्री दिनेश कुमार, प्रदेश भाजपा महामंत्री डा. सुभाष शर्मा, जीवन गुप्ता व मलविंद्र सिंह कंग भी उपस्थित थे। इस बैठक में प्रदेश कोर ग्रुप सदस्य, सांसद, विधायक, प्रदेश भाजपा पदाधिकारी, जिला प्रभारी, प्रदेश मोर्चा अध्यक्ष, प्रदेश मोर्चा प्रभारी, प्रकोष्ठों के संयोजक व नगर निगम चुनाव प्रभारी शामिल हुए।

नड्डा ने कोरोना काल दौरान भाजपा कार्यकत्र्ताओं द्वारा किए गए सेवा कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि सिर्फ भाजपा कार्यकत्र्ता ही नि:स्वार्थ भाव से सेवा कार्य करते हैं और ये हमारी पार्टी के सूत्रधार हैं। नड्डा ने भारतीय जनता पार्टी में सभी जातियों के समावेश का संदेश देते हुए सभी वर्गों के लोगों को भाजपा के साथ जोडऩे के लिए कार्यकत्र्ताओं से अपील की। उन्होंने कहा कि वह जल्द ही पंजाब दौरे पर आएंगे और पार्टी कार्यों की जमीनी समीक्षा भी करेंगे। उन्होंने कार्यकत्र्ताओं को प्रदेश के लगभग 23,000 बूथों, शक्ति केंद्रों व मंडल तक पार्टी को शक्तिशाली एवं सुदृढ़ बनाने के लिए प्रयास करने को कहा।

उन्होंने पार्टी नेताओं को जमीनी स्तर पर उतर कर 20 वर्ष के युवाओं को जोडऩे तथा गांवों के घर-घर तक पार्टी की विचारधारा को पहुंचा कर सभी वर्गों के लोगों को जोड़कर आने वाले समय में युवाओं की भाजपा पार्टी बनाने का लक्ष्य दिया। नड्डा ने अश्वनी शर्मा से पार्टी को पंजाब में नई दिशा व संगठन को मजबूत करने के लिए भविष्य में इतिहास में अपना नाम दर्ज करवाने के लिए भी प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को कोरोना महामारी के चलते सोशल मीडिया के जरिए जनता तक पहुंचने का रास्ता मिला है। उन्होंने प्रदेश भाजपा से आई.टी. व सोशल मीडिया के माध्यम से प्रदेश की जनता तक और पहुंच बनाने तथा केंद्र की नीतियों को घर-घर पहुंचाने व कांग्रेस सरकार की कुरीतियों प्रति जनता को जागरूक करने का आह्वान किया।

अश्वनी शर्मा ने कहा कि कोरोना महामारी के संकट दौरान पंजाब में कांग्रेस सरकार ने केंद्र द्वारा भेजे गए राशन की बंदरबांट कर निम्न स्तर की राजनीति को दर्शाया है। शर्मा ने नड्डा से इस मामले की सी.बी.आई. जांच करवाने का भी आग्रह किया। शर्मा ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा ‘आत्मनिर्भर भारत’ के देखे सपने को प्रदेश के उद्यमियों द्वारा समर्थन देते हुए चीन के उत्पादों को नकार कर सहयोग देने पर धन्यवाद किया। उन्होंने पंजाब में संगठनात्मक ढांचे का ब्यौरा देते हुए कहा कि भाजपा का प्रत्येक कार्यकत्र्ता जी-जान से जुटा है। प्रदेश भाजपा ने 117 विधानसभाओं पर संगठन को मजबूती देने के लिए मंडल, शक्ति-केंद्र व बूथ स्तर तक की रचना को पूरा करते हुए वरिष्ठ प्रभारियों की जिम्मेदारी तय कर दी है।  अश्वनी शर्मा ने मोदी सरकार द्वारा फसल के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एम.एस.पी.) पर कांग्रेस व आम आदमी पार्टी द्वारा दुष्प्रचार करके किसानों को प्रदर्शनों के लिए उकसाने पर आड़े हाथों लेते हुए खुली बहस की चुनौती दी। 

शर्मा ने कहा कि केंद्र द्वारा पारित कानून किसानों के हित में है। अश्वनी शर्मा ने राजनीतिक प्रस्ताव पेश करते हुए बताया कि कोरोना संकट की इस घड़ी में जिस तरह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश का नेतृत्व किया और अपनी मजबूत नैतिक इच्छाशक्ति का प्रदर्शन किया, उससे चीन की सारी योजनाएं विफल हो गईं। उन्होंने कहा कि चीन के मुद्दे पर दुनिया के सभी बड़े देशों ने भारत का समर्थन किया है। अमरीकी संसद ने भी भारत के पक्ष में प्रस्ताव पारित कर भारत का समर्थन करते हुए चीन की विस्तारवादी नीति का विरोध किया है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Vaneet

Related News

Recommended News