अकाली दल अभी भी किसान विरोधी बिल लाने वाली NDA सरकार का अटूट अंग: विधायक आवला

9/21/2020 3:59:20 PM

जलालाबाद(सेतिया,सुमित,टीनू,बंटी): खेती आर्डीनैंस सबंधी पास किए गए बिल के विरोध में आज कांग्रेस पार्टी द्वारा विधायक रमिंदर आवला के नेतृत्व में मोदी सरकार के खिलाफ अनाज मंडी जलालाबाद के मुख्य गेट के समक्ष रोष प्रदर्शन किया। यहीं नहीं क्षेत्र के विभिन्न गांवों में भी केन्द्र सरकार के विरुद्ध रोष प्रदर्शन किए गए गया। अनाज मंडी के मुख्य गेट के समक्ष भारी संख्या में कांग्रेसी पहुंचे और उन्होंने मोदी सरकार के विरुद्ध नारेबाजी की । इस अवसर पर संबोधन करते हुए विधायक आवला ने कहा कि  केंद्र सरकार द्वारा खेती आर्डीनैंस सबंधी जो बिल पास किया गया है वे किसान विरोधी है और इस बिल के पारित होने से किसानी तबाही हो जाएगी और किसानी के साथ-साथ अन्य लोगों का कारोबार भी ठप्प होकर रह जाएगा । 

विधायक आवला ने कहा कि जितनी देर तक केन्द्र सरकार इन बिलों को रद्द नहीं करती कांग्रेस पार्टी संघर्ष जारी रखेगी। पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह अब सुनिश्चित करें कि बीजेपी के साथ अटूट रिश्ता कब तोड़ेंगे। उन्होंने कहा कि एक तरफ जहां कुछ दिन पहले प्रकाश सिंह बादल ने बिल की हिमायत की थी और अब सुखबीर सिंह बादल बिल का विरोध कर रहे हैं और हरसिमरत कौर बादल ने मंत्री पद से इस्तीफा भी दे दिया है लेकिन अभी तक अकाली दल द्वारा बीजेपी के साथ सांझ बरकरार है। जिससे साबित होता है कि अकाली दल बीजेपी के साथ मिलकर दोहरी चाल चल रही है लेकिन राज्य के किसान भाई और किसान समर्थक लोग अकाली दल की इस चाल को अच्छी तरह समझते हैं। 

उन्होंने कहा कि एमएसपी खत्म होने से यहां के किसानों को यूपी,बिहार की तरफ भाव नहीं मिलेंगे और वहां पर पंजाब के मुकाबले गेहूं, चावल की फसल 200-300 रुपए क्विंटल कम दामों में बिकती है और यही हाल पंजाब में भी किसानों का होगा और पंजाब में किसानी खत्म होने से आढ़तिए भी खत्म होंगे और इससे बजार भी खत्म हो जाएगा। विधायक ने कहा कि कांग्रेस पार्टी किसानों के साथ खड़ी है और जब तक सरकार इस पर फिर से विचार नहीं करती, कांग्रेस पार्टी द्वारा रोष धरने और प्रदर्शन जारी रहेंगे। 


Vatika

Related News