कोरोना के कारण 25 प्रतिशत रह गया डेयरियों का कारोबार

6/27/2020 3:19:14 PM

जालन्धर(धवन): कोरोना वायरस के कारण जहां सभी उद्योग-धंधे व व्यापार बुरी तरह से प्रभावित होकर रह गए हैं तो दूसरी तरफ इसकी चपेट में डेयरियों का कारोबार भी आ चुका है। कोरोना के कारण डेयरी का कामकाज करने वाले लोगों का कारोबार मात्र सिमट कर 25 प्रतिशत रह गया है। 

डेयरियों में पहले जहां रोजाना दूध, मक्खन, दही, देसी घी, पनीर व अन्य दूध से बने उत्पादों की बिक्री जमकर हुआ करती थी परंतु अब लोग मात्र दूध की ही खरीदारी के लिए आगे आ रहे हैं। डेयरी उद्योग से संबंधित जालंधर डेयरी एसोसिएशन के अध्यक्ष जगदेव लाल शर्मा ने बताया कि गांवों से पहले दूध डेयरियों में आकर बिकता था परन्तु अब यह दूध कम्पनियों ने अपनी ओर खींच लिया है। लोगों के अंदर कोरोना को लेकर दहशत का माहौल पाया जा रहा है। इसलिए भी लोग घरों से कम बाहर आकर खरीदारी कर रहे हैं। डेयरियों में आने वाले लोगों की गिनती काफी घट चुकी है। 

शर्मा ने बताया कि हालात अब ऐसे बन चुके हैं कि डेयरियों में काम करने वाले 2-3 कर्मचारियों का खर्चा निकालना भी कठिन हो गया है। इन कर्मचारियों को वेतन देने के लाले पड़ चुके हैं। उन्होंने कहा कि वास्तव में डेयरी में आने वाले लोगों की गिनती मात्र 25 प्रतिशत रह गई है।   


Vaneet

Related News