श्री गुरु नानक देव जी के 551वें प्रकाश पर्व पर सजाए जाएंगे नगर कीर्तन

11/28/2020 2:16:15 PM

सुल्तानपुर लोधी(सोढी): निरवैर खालसा सेवा सोसायटी के सभी मैंबर की शुक्रवार मीटिंग गुरुद्वारा श्री बेर साहब के दीवान हाल में हुई। जत्थे प्रधान हरजिन्दर सिंह खालसा ने बताया कि 29 नवंबर को सजाए जाने वाले नगर कीर्तन में फूलों की सेवा और झाड़ू की सेवा सोसायटी के सेवक करेंगे। इस समय सुखदेव सिंह, गुरप्रीत सिंह, बलविन्दर सिंह, लाडी, मनकरन सिंह, हरदेव सिंह, शरनजीत सिंह जज, दिलावर सिंह पक्षी, मनप्रीत सिंह, हरिन्दर सिंह, जगजीत सिंह, नवजीत सिंह, कश्मीर सिंह, हरदीप सिंह बूसोवाल, राम दत्ता, हैपी रतनपाल, डा. गुरप्रीत सिंह, परमिन्दर सिंह नसीरपुर, सतिन्दरपाल सिंह नसीरपुर, परमजीत सिंह, रणजोध सिंह खुरदें, मनिन्दर सिंह भरोआना, जोबनप्रीत सिंह, मलकीत सिंह,प्रिंसदीप सिंह हरजाप सिंह ने भी शिरकत की।

PunjabKesari, 551st Prakash Purab of Sri Guru Nanak Dev Ji

फतेहगढ़ साहिब(जगदेव): पहले बादशाह श्री गुरु नानक देव जी के प्रकाश पर्व की खुशी में शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से गुरुद्वारा श्री फतेहगढ़ साहिब से पांच प्यारों के नेतृत्व में विशाल नगर कीर्तन सजाया गया। इस नगर कीर्तन का अलग-अलग स्थानों पर श्रद्धालुओं सहित माता गुजरी कालेज फतेहगढ़ साहिब के समूह स्टाफ की ओर से स्वागत किया गया। यह नगर कीर्तन सरहिंद शहर, सरहिंद मंडी, हमायूम्पुर, जी.टी. रोड बाड़ा के मुख्य बाजारों से होता हुआ गुरुद्वारा श्री ज्योति स्वरूप साहिब में खत्म हुआ। इस अवसर पर गुरुद्वारा श्री फतेहगढ़ साहिब के मुख्य ग्रंथी भाई हरपाल सिंह, शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की अंत्रिग समिति मैंबर सतविन्दर सिंह टौहड़ा, शिरोमणि कमेटी मैंबर करनैल सिंह पंजोली, अवतार सिंह रिया मैंबर शिरोमणि कमेटी, जिला प्रधान शिरोमणि अकाली दल जगदीप सिंह चीमा, हल्का इंचार्ज सरहिंद दीदार सिंह भट्टी सहित अलग-अलग नेताओं की ओर से नगर कीर्तन में हाजिरी लगवाई गई और श्री गुरु नानक देव जी के प्रकाश पर्व की संगतों को बधाई दी गई।

PunjabKesari, 551st Prakash Purab of Sri Guru Nanak Dev Ji

मक्खु(वाही): माझे, मालवे और दोआबा के संगम विश्व प्रसिद्ध हरीके झील किनारे अलौकिक स्थान ईशरधाम नानकसर हरीके में 29 नवंबर को श्री गुरु नानक बादशाह जी के 551वें प्रकाश पर्व मनाए जाने की तैयारी जोरों पर चल रही है। इस संबंधी जानकारी देते हुए अस्थान के मुख्य सेवक बाबा माधो सिंह जी ने बताया कि गुरुपर्व समागम कोरोना के कारण इस साल कुछ अलग रूप के साथ मनाया जा रहा है। इस अवसर पर स्थान के गुंबद, पालकियां, समूह इमारतें, पार्कें, मेन गेट, बाग बगीचे, रास्तों आदि पर अलग-अलग रंग बिरंगी जलती बुझती लाइटिंग की चमक-दमक में सजा ईशरधाम इस सौभाग्य वाली रात का गहना प्रतीक होगा।


Sunita sarangal

Recommended News