बड़ी खबर: आम आदमी पार्टी के इस सीनियर नेता ने उठाया खौफनाक कदम

punjabkesari.in Saturday, Jun 25, 2022 - 02:33 PM (IST)

श्री माछीवाड़ा साहिब  (टक्कर) : माछीवाड़ा खेतीबाड़ी सहकारी विकास बैंक के नए बने चेयरमैन व 'आप' पार्टी के सीनियर नेता अजय पाल सिंह गिल्ल द्वारा आत्महत्या करने का मामला सामने आया है। उन्होंने आपनी कोठी में ही फंदा लगाकर आत्म-हत्या कर ली। प्राप्त जानकारी अनुसार गत रात्रि अजय पाल सिंह गिल्ल 'आप' नेताओं के साथ गांव में मीटिंगों में व्यसत थे और करीब 9 बजे वह अढियाना में स्थित आपने घर लौटे। परिवारक सदस्यों के बताने अनुसार घर में उनकी पत्नी व बेटी ही थी और वह प्रतिदिन की  तरह सोने के लिए आपने कमरे में चले गए। 

सुबह जब वह आपने कमरे से बाहर नहीं आए तो पत्नी के दरवाजा खटखटाने पर उन्होंने ना खोला। पत्नी ने जब खिडकी से देखा तो उनके पती अजय पाल गिल्ल का शव पंखे से लटक रहा था। पत्नी ने तुरंत आपने रिश्तेदारों को सूचित किया जिस पर वह भी तुरंत मौके पर पहुंच गए। घटना की सूचना मिलते ही डी.एस.पी. हरविंदर सिंह खैहरा और थाना मुखी विजय कुमार भी मौके पर पहुंचे जिन्होंने मौके का जायजा लिया। चेयरमैन अजय पाल गिल्ल ने परने का फंदा बनाकर पंखे के साथ बांधा और फिर बैड पर बाल्टी रखकर उसने आत्महत्या की। उनके कमरे में कोई भी सुसाइड नोट नहीं मिला जिससे आत्महत्या के कारणों का पता लग सके। 

दूसरी ओर परिवारक मैंबर भी हैरान हैं कि उसके मन में क्या आया जो ऐसा भयानक कदम उठा लिया। माछीवाड़ा खेतीबाड़ी सहकारी विकास बैंक के कुछ दिन पहले हुए चुनाव में अजय पाल गिल्ल माछीवाड़ा जोन से डायरैक्टर बने थे और 2 दिन पहले ही उनको चेयरमैन नियुक्त किया गया था। पर आज उन द्वारा की आत्महत्या कारन सारा शहर हैरान है। मृतक अजय पाल गिल्ल का पुत्र न्यूजीलैंड व एक लडक़ी दुबई रहती है जिनके आने के बाद ही अंतिम संस्कार किया जाएगा। फिलहाल पुलिस द्वारा शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है और परिवारक सदस्यों के ब्यान दर्ज किए जा रहे हैं।

पद् मिलने पर चेयरमैन गिल्ल बहुत खुश थे
आम आदमी पार्टी के सीनियर नेता अजय पाल सिंह गिल्ल खेतीबाड़ी विकास बैंक का चेयरमैन पद मिलने पर बहुत खुश थे और आपनी पार्टी के नेताओं को जल्द बढ़िया पार्टी देना चाहते थे। बीती रात उसके साथ रहे साथी सुखविंदर सिंह गिल्ल, केवल सिंह हेडों ने बताया कि वह निक्ट गांवों में खेतीबाड़ी सभाओं के चुनाव के लिए मीटिंगें करते रहे पर उसके चेहरे से यह नहीं लग रहा था कि वह घर जाकर इतना खौफनाक कदम उठा लेगा। मौके पर कोई भी सुसाइड नोट नहीं मिला जिस कारन खुदकुशी का मामला खुल सके। फिलहाल यह एक बड़ा भेद बना हुआ है।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kamini

Related News

Recommended News