पंजाब सरकार की तरफ से नर्सिंग स्टाफ को बड़ा तोहफा, किया यह अहम ऐलान

punjabkesari.in Thursday, May 12, 2022 - 09:53 PM (IST)

पटियाला : पंजाब के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण एवं चिकित्सा cशिक्षा एवं अनुसंधान मंत्री डॉ. विजय सिंगला ने आज अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस के मौके पर राज्य की नर्सिंग की लंबे समय से चली आ रही मांग को पूरा करते हुए नर्सिग सिस्टर्स के पद को नर्सिंग ऑफिसर बनाने की घोषणा की। डॉ. विजय सिंगला आज फ्लोरेंस नाइटिंगेल की जयंती के अवसर पर राजकीय मेडिकल कॉलेज पटियाला में पंजाब नर्सिंग एसोसिएशन और राजिंद्र अस्पताल के नर्सिंग स्टाफ द्वारा आयोजित समारोह में मुख्य अतिथि थे। उनके साथ विधायक अजीतपाल सिंह कोहली, डॉ. बलबीर सिंह और चेतन सिंह जोधामाजरा और प्रमुख सचिव हुसैन लाल भी थे।

डॉ. विजय सिंगला ने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत मान ने नर्सिंग स्टाफ द्वारा मरीजों की देखभाल में और कोविड महामारी में दी जा रही सेवाओं का सम्मान करते हुए नर्सिंग सिस्टर्स को नर्सिंग ऑफिसर के रूप में नियुक्त करने की मांगों को मंजूरी दी है। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार भी नर्सिंग स्टाफ के सभी रिक्त पदों को भरने के लिए प्रतिबद्ध है। इस साल के अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस की थीम का जिक्र करते हुए स्वास्थ्य मंत्री डॉ. विजय सिंगला ने कहा कि पंजाब सरकार को दुनिया भर में स्वास्थ्य प्रणालियों को मजबूत करने के लिए नर्सिंग पेशे में सुरक्षा, सहयोग और निवेश की जरूरत पर ध्यान देना चाहिए। समय पर पदोन्नति सहित नर्सिंग स्टाफ की कोई मांग बकाया नहीं होगी।

डॉ. विजय सिंगला ने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व में पंजाब सरकार ने राज्य को रंगला पंजाब बनाने का संकल्प लिया है और पहली कैबिनेट बैठक में ही युवाओं को 25000 नौकरियां देने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा कि यह घोषणा उबाऊ होती जा रही है, जिसके तहत हर विभाग में नौकरियां दी जा रही हैं और कल स्वास्थ्य विभाग में 710 नर्सिंग स्टाफ को नियुक्ति पत्र भी दिए गए। इस मौके पर पंजाब नर्सिंग एसोसिएशन की संयोजक परमजीत कौर संधू और राजिंद्र अस्पताल की नर्सिंग सुपरिटेंडेंट मंजीत कौर धालीवाल ने पंजाब सरकार को धन्यवाद दिया और स्वास्थ्य मंत्री और अन्य मेहमानों को सम्मानित किया।

इससे पूर्व विधायक डॉ. नर्सिंग अधिकारियों को भाई घनया जी का असली वारिस बताते हुए बलबीर सिंह ने कहा कि अब उन्हें अपनी मांगों को पूरा करने के लिए पहले की तरह संघर्ष नहीं करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री ने राजेंद्र अस्पताल में 25 लाख रुपए की आपातकालीन दवाएं भेजी थीं। अजीत पाल सिंह को योगदान देने का संकल्प लिया।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 

 

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kamini

Related News

Recommended News