कांग्रेस को एक और बड़ा झटका देने की तैयारी में भाजपा

punjabkesari.in Tuesday, Jun 07, 2022 - 10:47 AM (IST)

जालंधर (नरेंद्र मोहन): झटके-दर-झटके के बाद कांग्रेस को एक और झटका देने की तैयारी हो रही है। पंजाब कांग्रेस के 6 विधायकों ने दिल्ली में भाजपा नेतृत्व से मुलाकात की है। यह मुलाकात भाजपा में उनके प्रवेश के लिए है। अतिविश्वसनीय सूत्रों के अनुसार एक अन्य कांग्रेस विधायक का समर्थन भाजपा को है परंतु वह दिल्ली की बैठक में शामिल नहीं हुए जबकि 5 अन्य कांग्रेस विधायकों से भाजपा नेताओं की बातचीत चल रही है। भाजपा के एक वरिष्ठ नेता अनुसार अगर यह बातचीत सफल होती है तो दल-बदल विरोधी कानून के तहत दो-तिहाई विधायक पार्टी छोड़कर भाजपा में आ सकते हैं। भाजपा में दिलचस्पी दिखाने वाले कांग्रेस के पूर्व विधायकों की सूची करीब-करीब 2 दर्जन की है।

पंजाब विधानसभा चुनावों में कांग्रेस को पराजय का झटका लगा था। पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ का कांग्रेस छोड़ना और नवजोत सिंह सिद्धू का जेल जाना भी कांग्रेस के लिए एक-एक करके 2 झटके थे। अभी पंजाब कांग्रेस इससे उबर भी नहीं पाई थी कि 2 दिन पूर्व ही पंजाब कांग्रेस के नेता और 4 पूर्व मंत्री गुरप्रीत सिंह कांगड़, बलबीर सिंह सिद्धू, राज कुमार वेरका, केवल सिंह ढिल्लों और कमलजीत सिंह ढिल्लों कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए। पंजाब विधानसभा चुनावों के शीघ्र बाद उस भाजपा में नेताओं का जाना जिसने विधानसभा में महज 2 सीटें जीती थीं, अपने आप में आश्चर्यजनक है।
पिछले सप्ताह ही पंजाब कांग्रेस के 6 गैर-मलवई विधायकों ने केंद्रीय मंत्री और पंजाब भाजपा के प्रभारी गजेंद्र सिंह शेखावत से मुलाकात की थी। इनमें 2 पूर्व मंत्री भी हैं।

सूत्रों के अनुसार पंजाब के मालवा क्षेत्र से कांग्रेस का एक विधायक बेशक इस बैठक में शामिल नहीं था परंतु उस विधायक का नाम पहले से ही भाजपा नेतृत्व के पास है। बैठक में इसी बात पर चर्चा हुई कि दल-बदल विरोधी कानून से बचने के लिए कांग्रेस के 5 अन्य विधायकों को भी भाजपा में शामिल होने के लिए तैयार किया जाए। माझा में ही पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक सुखजिंदर सिंह रंधावा से भी बातचीत का प्रयास हुआ परंतु इसमें भाजपा को सफलता नहीं मिली। वैसे भी कांग्रेस के भाजपा से हमदर्दी रखने वाले नेता रंधावा को भाजपा में लाने से सहमत नहीं थे। इसी प्रकार दोआबा से विधायक राणा गुरजीत सिंह तक भी पहुंच की गई परंतु उन्होंने कोई रिस्पांस नहीं दिया। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News