जहरली शराब खिलाफ एक्साइज और बॉर्डर रेंज पुलिस का संयुक्त ऑपरेशन, बड़ी मात्रा में शराब बरामद

3/2/2021 2:23:40 PM

अमृतसर (इन्द्रजीत): जहरीली शराब बनाने वालों पर एक ऑपरेशन बड़े ऑपरेशन में सफलता प्राप्त करते हुए बॉर्डर रेंज पुलिस और एक्साइज विभाग की संयुक्त की संयुक्त छापामारी में 1 लाख 9 हजार लीटर अवैध शराब (लाहन ) बरामद की है। वही इसके साथ 1780 लीटर जहरीला एसिड बरामद किया है, जिसके साथ ऐसी शराब बनती है, जो जानलेवा बन जाती है। इस छापामारी के दौरान 6 चालू भटियां, 62 ड्रम 200 लीटर, 6 एल.पी.जी. सिलैंडर, 31 प्लॉस्टिक कैन, 2 वाटर टैंक 500 लीटर,10 बड़ी शराब स्टोर करने वाली त्रिपाल व अन्य आपत्तिजनक मैटेरियल बरामद किया है। यदि विभाग एंड मौके पर इसका पर्दाफाश ना करते तो यह तैयार किया गया माल शहरों और ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंच सकता था। ऐसा समझा जाता है कि कई वर्षों में इतना बड़ा अवैध शराब के विरुद्ध कोई ऑप्रेशन नहीं हुआ।

थाना लोपोके क्षेत्र में आयोजित पत्रकार सम्मेलन के दौरान इसका खुलासा करते हुए डिप्टी कमिश्नर एक्साइज जसपिंदर सिंह ने बताया कि एक्साइज एंड टैक्सेशन कमिश्नर पंजाब रजत अग्रवाल (आई.ए.एस.), आई.जी. बार्डर रेंज सुरेंद्र पाल सिंह परमार आई.पी.एस., आई.जी. एक्साइज मोहनीश चावला आई.पी.एस., नरेश दुबे ज्वाइंट कमिश्नर एक्साइज कमिश्नर के दिशा-निर्देश में इस ऑप्रेशन की रूप-रेखा तैयार की गई। इसमें एस.एस.पी. देहाती धु्रव दहिया, एस.पी. शैलेंद्र सिंह शैली, सहायक कमिश्नर एक्साइज अवतार सिंह कंग, एक्साइज अधिकारी सुखजीत सिंह, मैडम राजविंदर कौर व अन्य अधिकारियों के नेतृत्व में इस ऑपरेशन को अंजाम दिया गया। इसमें अधिकारियों को इनपुट था कि खतरनाक एसिड से जहरीली शराब खैलोंकला गांव के इलाके में तैयार की जाती है। इसमें सूचना मिली की कुलदीप सिंह पुत्र सुच्चा सिंह, सतनाम सिंह पुत्र मस्सा सिंह, रविंदर सिंह पुत्र बूटा सिंह, धरमवीर सिंह पुत्र रविंदर सिंह, हरिंदर सिंह पुत्र अवतार सिंह, सुखविंदर कौर पत्नी हरपाल सिंह, प्रीति पत्नी मनदीप सिंह, सिमरनजीत कौर पत्नी गुरदयाल सिंह और अन्य लोग बड़े स्केल पर जहरीली शराब बनाते हैं। इस बनाई गई शराब को इलाके के कई किलोमीटर दूर इर्द-गिर्द इलाकों में भेजते हैं। यहां तक कि अमृतसर तरनतारन गुरदासपुर जैसे इलाकों में भी इस जहरीली शराब की सप्लाई होती है। सूचना पर कार्रवाई करते हुए अमृतसर देहाती पुलिस ने आबकारी अधिकारियों के साथ ऑपरेशन की शुरुआत की तो इसमें बड़ी बरामदगी हुई। आज सुबह 5 बजे शुरू हुए इस ऑपरेशन में पुलिस और आबकारी विभाग की टीमों ने 2 दर्जन से अधिक घरों की तलाशी ली। 7 घंटे तक चले इस ऑपरेशन में इस बड़ी बरामदगी में सफलता मिली। आई.जी. बार्डर रेंज सुरेंद्रपाल सिंह परमार ने बताया कि पिछले समय में भी इस इलाके में काफी बरामदगी हुई है। 
गत माह भी लाखों लीटर बरामद की थी शराब 
बताना जरूरी है कि इन इलाकों में आबकारी अधिकारी सुखजीत सिंह और राजविंदर कौर ने पिछले महीनों में भारी छापामारी की, जिसमें लाखों लीटर शराब की बरामदगी की है। इसमें कई इलाकों में छापामारी हुई। इस दौरान तस्करों को पकडऩे के लिए उक्त अधिकारियों ने नावों के माध्यम से दरिया पार कर तस्करों के कई गढ़ तोड़े हैं। इसमें देहाती पुलिस की सक्रिय भूमिका रही है।

अवैश शराब को त्रिपालों में डालकर स्टोर करते हैं लोग
बरामद की गई इस जहरीली शराब को वहां के पेशेवर लोग टाट और प्लास्टिक की बनी हुई विशेष प्रकार की त्रिपालों के  बीच डालकर उसे स्टोर करते हैं। शराब को जमीन में दबा कर रखा जाता है और यह त्रिपाल उसके कवच का काम करती है और लंबे समय तक इसे सुरक्षित रखा जाता है। जैसे ही इसका ऑर्डर मिलता है वैसे ही यह शराब के तस्कर जमीन खोदकर त्रिपालों में से शराब निकालकर इसे सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा देते हैं जहां से इसकी सप्लाई खुदरा स्तर तक होती है। सिंह ने बताया कि उपरोक्त व्यक्तियों मौके पर ही गिरफ्तार करके उनके विरुद्ध केस रजिस्टर्ड कर लिया गया है। बरामद किए गए मैटेरियल की सैंपलिंग करवाई जाएगी और यदि इसमें कोई आपत्तिजनक और जानलेवा मटेरियल की पुष्टि हुई तो इसमें अपराध की धाराएं बढ़ा दी जाएंगी। जल्द ही इन इलाकों को अपराध मुक्त बनाया जाएगा। 

 


Content Writer

Tania pathak

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static