कोरोना के 6 पॉजीटिव मामले सामने आने से कपूरथला में मचा हड़कंप

7/2/2020 8:51:28 PM

कपूरथला (महाजन): कोरोना ने धीरे-धीरे अपनी पकड़ को मजबूर बनाते हुए अब केवल सड़कों पर ही नहीं, बल्कि लोगों के घरों में भी घुस गया है। गत कुछ दिनों से जो कोरोना के मरीज सामने आ रहे है, उनमें से अधिकतर परिवार के सदस्य ही शामिल है। किसी एक शख्य को जब तक उसके कोरोना पॉजीटिव होने का पता चलता है, तब कि उसका परिवार व उसके संपर्क में आने वाले कई लोग इसी चपेट में आ चुके होते है। कोरोना ने अपने इसी कहर को जारी रखते हुए वीरवार को एक ओर परिवार के 5 लोगों को अपनी चपेट में ले लिया। 

गत 29 जून को रमणीक चौंक के पास मोहल्ला त्रिलोकी नाथ निवासी 49 वर्षीय पूर्व पार्षद पॉजीटिव आने के बाद उनके पारिवारिक सदस्यों सहित उनके संपर्क में आने वालों की स्वास्थ्य विभाग द्वारा सैंपलिंग की गई, जिनकी वीरवार को रिपोर्ट आने पर 5 लोग पॉजीटिव निकले। जिनमें से 50 वर्षीय पुरुष, 43 वर्षीय महिला, 16 वर्षीय लड़का व 12 वर्षीय लड़का उनके पारिवारिक सदस्य पॉजीटिव निकले, जब कि 42 वर्षीय व्यक्ति शामिल है, जो पूर्व पार्षद के व्यापारिक कार्यो में काम करता है। इसी प्रकार गत दिनों दुबई से लौटे एक 50 वर्षीय एन.आर.आई. व्यक्ति को निजी कालेज में क्वारंटाइन किया गया, जिसका कोरोना टैस्ट लेने के बाद पॉजीटिव पाया गया। 

जिला ऐपीडीमोलोजिस्ट अधिकारी डा. राजीव भगत ने बताया कि वीरवार को पैंडिंग चल रहे 51 सैंपलों की रिपोर्ट आई, जिनमें से 45 लोगों की रिपोर्ट नैगेटिव आई, जब कि 6 कोरोना पॉजीटिव निकले। इन नए मरीज के सामने आने से अब तक कोरोना पॉजीटिव मरीजों का आंकड़ा करीब 110 तक पहुंच गया है, जब कि एक्टिव मरीजों की संख्या 27 है। इसके अलावा वीरवार को 359ा मरीजों की सैंपलिंग की गई, जिनमें कपूरथला से 73, टिब्बा 85, बेगोवाल से 32, पांछटा से 20, फगवाड़ा 48, फत्तूढींगा से 47, सुल्तानपुर लोधी से 13, काला संघिया से 35, भुलत्थ से 6 लोगों की सैंपलिंग की गई। डा. भगत ने बताया कि शहर के विभिन्न क्षेत्रों में सर्वे किया और संदिग्ध दिखने वालों की सैंपलिंग भी की गई। 

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आदेशों की पुख्ता पालना करवाने के लिए शहर के बैंकों, मालस, शोरुमों व निजी संस्थाओं सहित सरकारी संस्थाओं में टीमों की ओर से निरीक्षण किया। इस दौरान स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हिदायतों की पालना न करने वालों को कड़ी चेतावनी दी गई और उन्हें मास्क, सोशल डिस्टैंसिंग, सैनेटाईजर का निरंतर प्रयोग करते रहने के लिए भी प्रेरित किया।


Mohit

Related News