विधानसभा चुनाव: 117 हलकों में इतने वोटर करेंगे अपनी वोट के अधिकार का प्रयोग

punjabkesari.in Saturday, Feb 19, 2022 - 07:44 PM (IST)

लुधियाना  ( गौतम) : मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. एस. करुणा राजू ने  जानकारी देते हुए बताया कि राज्य की समूची मशीनरी शांतमयी, स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव को यकीनी बनाने के लिए 24 घंटे काम कर रही है। उन्होंने बताया कि राज्य में कुल 21499804 वोटर हैं जिनमें 11298081 पुरुष, 10200996 महिला और 727 ट्रांसजैंडर हैं। इस बार 18-19 साल उम्र वर्ग के 348836 वोटर अपने वोट के अधिकार का प्रयोग करेंगे । 80 साल से अधिक उम्र के 509405 वोटर, 109624 सर्विस वोटर और 158341 दिव्यांग वोटर हैं, जबकि 1608 प्रवासी वोटर हैं।

117 हलकों में 1304 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं जिनमें 1209 पुरुष, 93 महिला और 2 ट्रांसजैंडर शामिल हैं। चुनाव मैदान में उतरे उम्मीदवारों में 231 राष्ट्रीय पार्टियों, 250 प्रांतीय, 362 गैर मान्यता पार्टियों और 461 आजाद उम्मीदवार है, जबकि इनमें से 315 उम्मीदवारों आपराधिक पृष्ठभूमि वाले है। उन्होंने आगे बताया कि 80 साल से अधिक उम्र के 444721 व्यक्ति, 138116 दिव्यांग वोटर और 162 कोविड-19 मरीजों को पोस्टल बैलट सुविधा के लिए फार्म डी मुहैया करवाए गए हैं। डॉ. राजू ने बताया कि पोलिंग स्टेशनों वाले 14684 स्थानों पर 24689 पोलिंग स्टेशन और 51 ऑगजीलरी पोलिंग स्टेशन स्थापित किए गए हैं, जिनमें से 2013 की पहचान गंभीर, जबकि 2952 संवेदनशील पोलिंग स्टेशनों के तौर पर की गई है। 1196 मॉडल पोलिंग स्टेशन, 196 महिला संचालित पोलिंग स्टेशन और 70 दिव्यांगों द्वारा संचालित पोलिंग स्टेशन होंगे। सभी पोलिंग स्टेशनों की वैबकास्टिंग की जा रही है।

डॉ. एस. करुणा ने बताया कि इस चुनाव में 28328 बैलट यूनिट और 24740 ईवीऐम-वीवीपैट का प्रयोग किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कुल 6 विधानसभा हलके, 52-खरड़, 59 -साहनेवाल, 61-लुधियाना दक्षिणी, 67-पायल, 110-पटियाला ग्रामीण और 115-पटियाला में 2-2 बैलट यूनिट हैं।  इसके अलावा  3 विशेष स्टेट ऑबर्जवरों के अलावा आयोग ने 65 जनरल ऑबर्जवर, 50 व्यय पर्यवेक्षक और 29 पुलिस पर्यवेक्षक नियुक्त किए हैं, जो पैनी नजर रख रहे हैं। उन्होंने कहा कि पोलिंग पार्टियों की सहायता के लिए 2083 सैक्टर अफसर तैनात किए गए हैं।  राज्य में 17 विधानसभा हलकों की शिनाखत व्यय संवेदनशील के तौर पर की गई है। उन्होंने कहा कि 117 डिसपैच सैंटर और 117 कुलैकशन सैंटर हैं, जबकि राज्य में 67 स्थानों पर 117 ईवीऐम स्ट्रांग रूम स्थापित किए गए हैं। डॉ. राजू ने बताया कि जी.पी.एस. से लैस 9966 वाहनों का प्रयोग चुनाव सम्बन्धी ड्यूटियों के लिए किया जा रहा है। पोलिंग पार्टियां को पोलिंग स्टेशनों पर भेजने के लिए 5000 से अधिक बसों का प्रयोग किया जा रहा है।

PunjabKesari

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kamini

Related News

Recommended News