विदेशों से आए यात्रियों के बिना पीपीई किट पहन कर्मचारियों ने लिए सैंपल, सोशल मीडिया पर वायरल हो रही फोटो

6/1/2020 2:17:58 PM

अमृतसर (दलजीत शर्मा): कोरोना से लोगों को बचाने के दावे करने वाला सेहत विभाग खुद वायरस को आमंत्रण दे रहा है। आईसीएमआर की गाइडलाइन को दरकिनार करते हुए अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर बिना पीपीई किट डालें डाक्टर तथा कर्मचारी विदेशों से आने वाले लोगों के सैंपल ले रहे हैं। विभाग के इन कर्मचारियों की एक गलती के कारण विदेश से आया कोरोना आसानी से अपना खतरनाक रूप अख्तियार कर सकता है।  विभाग कि इस लापरवाही की फोटो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। खैर सरकारी अस्पताल अजनाला के एसएमओ ने जहां कर्मचारियों से लिखित रूप में जवाब तलबी मांगी है वहीं सिविल सर्जन मामले से अनजान होते हुए पहले की भांति अपना फोन ही नहीं उठाते हैं।

जानकारी अनुसार अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट अमृतसर में प्रतिदिन विदेशों से यात्री आ रहे हैं सेहत विभाग द्वारा इन यात्रियों की स्क्रीनिंग तथा सैंपलिंग के लिए टीमों का गठन किया गया है। रविवार देर शाम को विदेश से आने वाली फ्लाइट में यात्रियों के सैंपल लेने के लिए सरकारी अस्पताल अजनाला के औरतोंऑर्थो तथा एनेस्थीसिया के डॉक्टर सहित एक टेक्नीशियन की ड्यूटी लगाई गई थी। आईसीएमआर की गाइडलाइन को दरकिनार करते हुए इन कर्मचारियों ने बिना पीपीई किट पहन यात्रियों के सैंपल लिए हैं एक डॉक्टर जहां फ्लूकोन के अंदर बिना किट के काम करता दिखाई दिया वही दो कर्मचारी मरीज के पास बिना किट के खड़े फोटो में साफ दिखाई दे रहे हैं। ऐसे में यदि कोई कोरोना वायरस से पीड़ित यात्री छींक या खांसी कर दे तो उनके आसपास मौजूद लोग भी जहां वायरस की चपेट में आ सकते हैं। वहीं यात्री के हाथ लगाने पर कर्मचारियों की छोटी सी गलती भारी पड़ सकती है सूत्र बताते हैं कि विभाग के कर्मचारी अपनी मनमर्जी इसलिए करते हैं क्योंकि देर रात को कभी भी सिविल सर्जन ने एक दो बार के इलावा कभी भी एयरपोर्ट पर चेकिंग करके सेहत सेवाओं का जायजा नहीं लिया है।

PunjabKesari

क्या है आईसीएमआर की गाइडलाइंस
आईसीएमआर द्वारा स्पष्ट किया गया है कि जब भी किसी मरीज का करो नाकाबंदी सैंपल लेना है तो डॉक्टरों सहित कर्मचारियों द्वारा पी पी किट का इस्तेमाल करना जरूरी है। इसके अलावा कर्मचारियों द्वारा फेस पर शील्ड ग्लव्स मास्क इत्यादि का इस्तेमाल करना अति आवश्यक है परंतु बीती रात एयरपोर्ट पर तैनात कर्मचारियों की वायरल हुई फोटो में ऐसी कोई भी गई गाइडलाइंस के अनुसार काम होता दिखाई नहीं दिया है।

सीनियर मेडिकल अधिकारी ने कहा कर्मचारियों की होगी लिखित में जवाब तलबी
यह संबंध में सिविल अस्पताल अजनाला के सीनियर मेडिकल अधिकारी डॉक्टर ओम प्रकाश से बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि सैंपल लेते समय पीपीई किट डालना अति आवश्यक है। अस्पताल प्रशासन द्वारा डाक्टर तथा कर्मचारियों को पर्याप्त मात्रा में किट तथा मास्क उपलब्ध करवाए गए हैं फोटो में जो कर्मचारियों द्वारा किट नहीं डाली गई हैं। वह गलत है इस संबंध में उन्होंने संबंधित कर्मचारियों से पूछताछ की है जिसमें उन्होंने बताया है कि जहां पर सैंपल लिए जा रहे थे वहां पर ना तो ऐसी का तथा ना ही पंखे का कोई प्रबंध था गर्मी ज्यादा होने के कारण किट डाली होने के चलते उन्हें घबराहट हो रही थी जिस कारण उन्होंने बाद में किट उतार दी डॉक्टर ओम प्रकाश ने कहा कि फिर भी डॉक्टरों से लिखित रूप में जवाब तलबी मांगी जाएगी।


Edited By

Tania pathak

Related News