पटाखों की दुकान में कुख्यात गैंगस्टर छोटा लल्ला की हत्या

10/22/2019 11:32:50 AM

लुधियाना(महेश): कुख्यात गैंगस्टर विजय सिद्धू उर्फ छोटा लल्ला की रविवार रात को जालंधर बाईपास के निकट दानामंडी में पटाखों की एक दुकान पर हत्या कर दी गई। सलेम टाबरी पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर महिला दुकानदार विनीता को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि उसके दोनों पुत्र विशाल व सागर फरार हैं।  गैंगस्टर छोटा लल्ला पर हत्या का प्रयास, मारपीट, फायरिंग सहित अन्य संगीन अपराधों के तहत 8 आपराधिक मामले दर्ज हैं। नशा तस्करी के मामले में वह करीब 3 महीने पहले ही जेल से जमानत पर बाहर आया था और कुछ दिन पहले उसने मंडी में एक छायाकार के साथ भी मारपीट की थी। पुलिस ने विजय की पत्नी रिशु की शिकायत पर केस दर्ज किया है।  पुलिस की कहानी में कई छेद हैं। चर्चा है कि मामला रंगदारी मांगने का है और हत्या आरोपियों पर पहले कोई आपराधिक मामला दर्ज नहीं है। जिस महिला को गिरफ्तार किया गया है वह पटाखों का कारोबार करती है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार छोटा लल्ला को घटना से पहले अपने साथियों के साथ उक्त दुकान में जबरदस्ती घुसते हुए देखा गया था। पुलिस इन बिंदुओं से जानबूझ कर अंजान बन रही है।  
PunjabKesari


लल्ला की पत्नी बोली, पार्किंग की पर्ची काटने को लेकर हुई थी तकरार
हैबोवाल कलां के राजेश नगर की रिशु ने पुलिस को दिए बयान में कहा है कि उसका पति अजय दाना मंडी पटाखा मार्कीट में पार्किंग के ठेकेदार विक्की साहनी के पास काम करता था। रविवार रात को उसकी मंडी में ड्यूटी थी। उसका चाचा राज कुमार रात करीब 12 बजे उसके पति को खाना देने के लिए गया था। चाचा ने उसे फोन पर बताया कि काकोवाल रोड का रहने वाला विशाल, उसका भाई सागर व इनकी माता विनीता विजय के साथ उनकी दुकान पर आने वाले ग्राहकों के वाहनों की पर्ची काटने को लेकर झगड़ा कर रहे हैं, जबकि उसका पति इस बात पर अड़ा हुआ है कि वह ठेकेदार के पास नौकरी करता है, जो भी वाहन पटाखा मार्कीट में पार्क होगा वह उसकी पर्ची काटेगा। इस बात को लेकर दोनों पक्षों में तकरारबाजी हो गई। उसका आरोप है कि इस पर आरोपियों ने उसके पति पर हमला कर दिया। विशाल के हाथ में कैंची थी, जबकि सागर के पास तेजधार हथियार था। आरोपियों के साथ एक दर्जन के करीब और लोग भी थे। विनीता के उकसाने पर उसके दोनों बेटों ने अपने साथियों साहित उसके पति पर हमला कर दिया। जख्मी होकर उसका पति जमीन पर गिर गया तो आरोपियों ने उसे पीटा और मौके से फरार हो गए।  इस बीच किसी ने 108 पर कॉल करके एम्बुलैंस बुला ली और उसका चाचा उसे इलाज के लिए सिविल अस्पताल ले गया, जहां डाक्टरों ने उसके पति को मृत घोषित कर दिया। 


रात भर थाने में लहूलुहान हालत में बैठी रही हत्यारोपी महिला 
थाने में हत्यारोपी महिला विनीता ने रोते हुए बताया कि वे तो अपनी दुकान पर बैठ कर काम रहे थे। छोटा लल्ला अपने साथियों सहित दुकान में घुस आया और 2 लाख रुपए की रंगदारी मांगने लगा। मना करने पर उसके कपड़े फाड़ दिए और उस पर जानलेवा हमला किया। किसी तरह से उसके बेटे ने उसे बचाया। लल्ला ने उसके बेटे विशाल पर भी हमला किया। उसे कुर्सी सहित जमीन पर पटक कर कैश काऊंटर से 5 लाख रुपए से अधिक नकदी लूट कर ले गए, जिसका उसने भुगतान करना था।  अपने फटे कपड़े व शरीर पर हुए जख्म दिखाते हुए उसने कहा कि उन्होंने मार्कीट से मोटे ब्याज पर रकम उठाकर माल खरीदा है, जिसकी आमदन से उसके परिवार का गुजारा चलता है लेकिन एक पल में ही सब कुछ पलट गया। उसे समझ ही नहीं आया कि उसके साथ क्या हो गया है। वह तो अ‘छे-भल्ले अपने काम धंधे में लगे हुए थे। वह रविवार रात से लहूलुहान हालत में थाने में बैठी है। उसका अभी तक मैडीकल नहीं करवाया गया है और न उसकी शिकायत पर कोई कार्रवाई की जा रही है। उन पर झूठा व बेबुनियाद केस दर्ज किया गया है।   

 


Vatika

Related News