पंजाब में जी.एस.टी. नंबर कैंसलेशन के मामले यह शहर सबसे आगे

punjabkesari.in Friday, Apr 15, 2022 - 10:46 PM (IST)

लुधियाना (सेठी) : पंजाब का मंडी गोबिंदगढ़ जहां कुल जी.एस.टी. नंबर रजिस्ट्रेशन की तुलना में जी.एस.टी. नंबर कैंसलेशन और सरैंडर की संख्या अधिक है। आर.टी.आई (राइट टू इनफार्मेशन) द्वारा एकत्रित जानकारी के अनुसार 2017 जबसे जी.एस.टी. कानून लागू किया गया था) तबसे नवंबर 2021 तक मंडी गोबिंदगढ़ डिवीजन में जी.एस.टी. रजिस्टर्ड डीलरों की कुल संख्या 5,296 थी, जबकि इसी अवधि के दौरान कैंसल्ड जी.एस.टी. नंबर व सरैंडर जी.एस.टी. नंबर डीलरों की संख्या 5,451 है, जो रजिस्टर्ड जी.एस.टी. डीलरों से अधिक है। जी.एस.टी. नंबर आमतौर पर जी.एस.टी. विभाग द्वारा कैंसिल किए जाते है अथवा यदि जब रजिस्टर्ड डीलर को कर चोर या डिफाल्टर पाया जाता है और रजिस्टर्ड व्यक्ति स्वयं अपना जी.एस.टी. नंबर सरैंडर करें या यदि डीलर द्वारा जिस उद्योग के लिए जी.एस.टी. नंबर लिया हो, उस उद्योग की गतिविधि को बंद करे। यदि इन आंकड़ों की तुलना राज्य के अन्य जिलों से किया जाए तो परिणाम बहुत चौंकाने वाले हो सकते हैं क्योंकि कुल कैंसलेशन की इतनी अधिक संख्या अन्य कहीं नहीं है।
   
नवंबर 2021 तक पटियाला -1 में कुल 5,432 जी.एस.टी. रजिस्टर्ड डीलर हैं, जिसमें से जी.एस.टी. कैंसलेशन व जी.एस.टी. नंबर सरैंडर करने वालों की संख्या केवल 1,420 है। बड़े शहरों में भी इसी अवधि तक कैंसलेशन मंडी गोबिंदगढ़ की तुलना में कम है। अमृतसर -1 डिवीजन जिसमें 7071 जी.एस.टी. रजिस्टर्ड डीलरों में कुल कैंसलेशन और सरैंडर के मामले केवल 1771 है, यहां तक कि लुधियाना दक्षिण के मामले में भी जो सबसे बड़े डिवीजनों में से एक है, इसमें कुल रजिस्टर्ड डीलर 14,086 हैं, जबकि कैंसलेशन करने वालों की कुल संख्या 4,621 है।

इस मामले पर पंजाब प्रदेश व्यापार मंडल के आर्गेनाइजिंग सैक्रेटरी (पंजाब) विनीत हांडा ने कहा कि “ यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि मंडी गोबिंदगढ़ में कुल रजिस्टर्ड डीलर की तुलना में कैंसलेशन अधिक है और यहां तक कि पूरे भारत में रजिस्टर्ड डीलर से अधिक कैंसिल करने वाला कोई अन्य जिला नहीं होगा। इन आंकड़ों से यह स्पष्ट होता है कि मंडी गोबिंदगढ़ क्षेत्र में फर्जी बिलिंग और कर चोरी का गोरख धंधा चलता है। हांडा ने कहा कि सम्बंधित विभाग को इसको पकड़ने के लिए कड़ा परिश्रम करना पड़ेगा। इसके साथ जी.एस.टी. नंबर कैंसिल करने वालो पर विभाग सख्ती से जांच करें।    

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Subhash Kapoor

Related News

Recommended News