पंथक एजेंडे के मद्देनजर भाजपा में घर वापसी कर सकते हैं अकाली दल में गए हिन्दू नेता

punjabkesari.in Wednesday, Jun 15, 2022 - 12:14 PM (IST)

लुधियाना(हितेश): अकाली दल द्वारा संगरूर लोकसभा सीट पर होने वाले उप चुनाव के दौरान जिस तरह से पंथक एजेंडा अपनाया जा रहा है उसके मद्देनजर कई हिन्दू नेता भाजपा में घर वापसी कर सकते हैं। यहां बताना उचित होगा कि विधानसभा चुनाव से पहले जहां बड़ी संख्या में नेताओं द्वारा आम आदमी पार्टी, कांग्रेस व भाजपा को ज्वाइन किया गया वही कुछ नेता अपनी पार्टी छोडकर अकाली दल में भी गए थे । इनमें से पूर्व मंत्री, सांसद, विधायक व बड़े नेता भी शामिल हैं जो अपनी पार्टी छोडकर दूसरी पार्टियों की टिकट पर विधानसभा चुनाव भी लड़ चुके हैं।

लेकिन भाजपा छोडकर अकाली दल में गए कई नेताओं द्वारा घर वापसी की तैयारी शुरू कर दी गई है। जिसकी संभावना पिछले दिनों भाजपा द्वारा कॉंग्रेस व अकाली दल के कई पूर्व मंत्रियों को शामिल करने के बाद और ज्यादा बढ़ गई है । इसकी बड़ी वजह अकाली दल द्वारा संगरूर लोकसभा सीट पर पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या के आरोपी बलवंत सिंह राजोआना की बहन को उम्मीदवार बनाने के अलावा बंदी सिंहों की रिहाई के लिए चलाई जा रही मुहिम को माना जा रहा है। बताया जाता है कि इस मुद्दे पर पूर्व मंत्री अनिल जोशी द्वारा अपने समर्थकों के साथ चर्चा की गई है और आने वाले दिनों में किसी भी समय अकाली दल में गए कई हिन्दू नेताओं की भाजपा में वापसी की घोषणा हो सकती है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Related News

Recommended News