अगर आप भी ऑनलाइन भरते हैं बिजली का बिल, तो हो जाए सावधान

punjabkesari.in Monday, Dec 13, 2021 - 10:57 AM (IST)

लुधियाना: अगर आपके मोबाइल पर या ई.मेल पर बिजली का बिल भरने के लिए पी.एस.पी.सी.एल. की तरफ से अगर कोई बिजली बिल का मैसेज आता है और उसके नीचे पे-यू का कोई लिंक देकर पैसे भरने के लिए कहा जाता है तो उसे अच्छे से वेरीफाई कर लें वर्ना आप साइबर ठगों का शिकार हो सकते हैं। आज कल ऐसे फर्जी लिंक भेज कर साइबर ठग कारोबारियों की जेब पर डाका डाल रहे है।

यह भी पढ़ेंः चंडीगढ़ की हरनाज संधू के सिर सजा 'मिस यूनिवर्स' का खिताब

साइबर ठगों ने ऐसे कई कारोबारियों को फर्जी लिंक भेज कर लाखों रुपए भी ठग लिए हैं। हालांकि इनमें से 7 ऐसे कारोबारी है जिन्होंने समय पर पुलिस कमिश्नर को शिकायत दी और साइबर सेल की पुलिस ने टेक्निकल तौर पर जांच कर उन कारोबारियों के लाखों रुपए एक डेढ़ महीने के अंदर-अंदर वापस भी दिलवा दिए हैं। 

यह भी पढ़ेंः भयानक सड़क हादसा: मासूम समेत 3 लोगों की मौत, खौफनाक मंजर देख दहल गए लोग

दरअसल साइबर ठगों ने एक कारोबारियों को ठगने का नया तरीका निकाला है। पहले उनकी फैक्ट्रियों का बिल पता करते हैं, ज्यादातर जिनका बिल लाखों में होता है, उन कारोबारियों को पी.एस.पी.सी.एल. के नाम पर बिजली बिल का मैसेज भेजते हैं, फिर नीचे एक पे-यू के नाम से फर्जी लिंक बना कर भेजा जाता है और जिसमें बिजली का बिल जमा करवाने के लिए कहा जाता है। इस किसी व्यक्ति के मोबाइल पर या ई.मेल पर यह लिंक आता है, वह जुर्माने से बचने के लिए उस लिंक पर क्लिक कर पावरकॉम का बिल पे कर देता है। लेकिन, फर्जी लिंक से भरा हुआ बिजली का बिल पावरकॉम को न जाकर साइबर ठगों के अकाउंट में चला जाता है। साइबर ठग ऐसे लिंक भेज कर अब तक कई लोगों से ठगी कर चुके हैं।

यह भी पढ़ेंः पंजाबी गायक का बड़ा खुलासा, लॉकडाउन दौरान खौफनाक कदम उठाने को हो गए थे मजबूर

7 कारोबारियों के ठगे साढ़े 19 लाख रुपए दिलाए वापस
पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर की तरफ से ऐसे साइबर ठगों के खिलाफ एक विशेष मुहिम चलाई हुई है। जिसके तहत साइबर सेल की पुलिस को विशेष निर्देश दिए हुए है कि ऐसी साइबर ठगी की शिकायत आने पर तुरंत कार्रवाई की जानी चाहिए। इसी के तहत साइबर सेल की पुलिस ऐसे ठगों के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है। कुछ महीनों में ऐसी ठगी के शिकार हुए 7 लोगों को साइबर सेल की पुलिस उनके पैसे वापस दिलवा चुकी है। पीड़ितों को वापस दिलवाई गई कुल रकम 19 लाख 61 हजार 717 रुपए है।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kalash

Related News

Recommended News