लीडरशिप के मुद्दे संबंधी पत्र शर्मनाक और नामंजूर: कैप्टन

punjabkesari.in Tuesday, Aug 25, 2020 - 05:46 PM (IST)

जालंधर(धवन): पंजाब के मुख्यमंत्री अमरेंद्र सिंह ने कांग्रेस कार्यसमिति (सी.डब्ल्यू.सी.) द्वारा सोनिया गांधी को अगले (ए.आई.सी.सी.) सत्र तक कांग्रेस अध्यक्ष पद पर बने रहने का प्रस्ताव पारित करने की सराहना की है जिसमें उन्हें मौजूदा किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए अनिवार्य संगठनात्मक परिवर्तन करने के लिए अधिकृत किया गया है। कैप्टन अमरेंद्र सिंह दूसरी तरफ  राहुल गांधी से सहमत थे जिसमें उन्होंने कहा था कि कांग्रेस अध्यक्ष की मदद के लिए कोई ढांचा बनाया जाना चाहिए ताकि पार्टी मामलों तथा कार्यप्रणाली को प्रभावी ढंग से चलाया जा सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह पार्टी के वरिष्ठ नेता पी. चिदम्बरम से सहमत हैं कि ए.आई.सी.सी. का सत्र जल्द बुलाया जाना चाहिए तथा संभवत: यह अगले 6 महीनों के अंदर होना चाहिए ताकि उसमें नए अध्यक्ष का चुनाव किया जा सके। 

कैप्टन ने कहा कि हमें मालूम है कि भाजपा कांग्रेस के पीछे लगी हुई है तथा ऐसी अवस्था में हमारे ही लोग विरोध जैसे पत्र लिखें तो वह उचित नहीं है। राहुल द्वारा पत्र को जारी करने के समय को लेकर किए गए हस्तक्षेप का कैप्टन ने समर्थन किया। कुछ कांग्रेसी नेताओं के समूह द्वारा जारी किए गए पत्र को शर्मनाक और अस्वीकार्य करार देते हुए उन्होंने कहा कि वह ऐसे संवेदनशील समय पर इन मुद्दों को उठाने संबंधी पार्टी के कुछ प्रवक्ताओं द्वारा प्रकट किए गए विचारों से समहत हैं। उन्होंने कहा कि सोनिया हमेशा ही पार्टी नेताओं और पब्लिक को उपलब्ध रही हैं तथा ऐसी स्थिति में विरोधात्मक पत्र लिखने की कोई आवश्यकता नहीं थी। जिन नेताओं ने भी पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं उन्हें लेकर उन्हें उम्मीद है कि वह पार्टी के साथ ही बने रहेंगे। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Vaneet

Related News

Recommended News