पंजाब में आर्गेनिक खेती करने वाले किसानों की संख्या काफी कम, केंद्र सरकार ने उठाए ये कदम

punjabkesari.in Thursday, Mar 31, 2022 - 05:30 PM (IST)

चंडीगढ़ : देश के सभी राज्यों में से पंजाब में सबसे कम जैविक खेती करने वाले किसान हैं, जिनकी संख्या 202 के आसपास है। जो आर्गेनिक खेती कर रहे हैं। देश में कुल 11.82 लाख किसान जैविक खेती कर रहे हैं और इसमें उत्तराखंड सबसे आगे है, जहां पर 3.01 लाख किसान जैविक खेती कर रहे हैं। केंद्र सरकार ने 2022-23 वित्तीय वर्ष के लिए जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए 650 करोड़ रुपए का बजट आबंटित किया गया है।

केंद्रीय मंत्री तोमर ने बताया है कि केंद्र सरकार परम पैरागट कृषि विकास योजना (पीकेवीवाई) और मिशन ऑर्गेनिक वैल्यू चेन डिवैल्पमैंट इन नॉर्थ ईस्ट रीजन की समर्पित योजनाओं को लागू कर रही है ताकि किसानों के बीच रासायनिक इनपुट मुक्त खेती को बढ़ावा दिया जा सके। पंजाब में अधिक उर्वरकों और कीटनाशकों के उपयोग में बाधा यह है कि यह धान और गेहूं का उत्पादन करता है, जिसे केंद्र सरकार द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर खरीदा जाता है।
 
उन्होंने कहा कि किसानों को लगता है कि अगर वे इन दो फसलों या अन्य फसलों का उत्पादन जैविक खेती के माध्यम से शुरू करते हैं, तो उनकी उपज में भारी कमी आएगी। वहीं कृषि विभाग राज्य के किसानों को शिक्षित करने के लिए एक अभियान शुरू करने जा रहा है। उन्होंने कहा कि उनका अंतिम लक्ष्य किसानों को जैविक खेती में स्थानांतरित करने के लिए प्रेरित करना और शिक्षित करना है।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Subhash Kapoor

Related News

Recommended News